1 एकड़ से ही होगी 5 एकड़ इतनी कमाई मल्टीलेयर खेती के इस मॉडल से होगी 5 से 8 लाख की कमाई

1 एकड़ से क्या 5 एकड़ की कमाई हो सकती है जवाब है हाँ हो सकती है मल्टीलेयर फार्मिंग के माध्यम से अब सवाल आता है की मल्टीलेयर फार्मिंग क्या है और किस तरह से हम 1 एकड़ से 5 एकड़ की कमाई कर सकते है तो आज हम आपको मल्टीलेयर फार्मिंग क्या है और मल्टीलेयर फार्मिंग हम अपने खेत में किस तरह से कर सकते है जानेगे पूरी जानकारी

मल्टीलेयर फार्मिंग क्या है (Multi Layer Farming)

जैसे की नाम से ही समझते है एक ही खेत में हम कई तरह की फसले बोते है यह फसले 3, 4 या 5 अलग अलग केटेगरी की हो सकती है मल्टीलेयर फार्मिंग में हमें इन फसलो से उत्पादन अलग अलग समय पर मिलता है और इन सभी फसलो का समय साइकिल वह भी अलग अलग होती है और तो और ये सभी फसले अलग अलग केटेगरी की होती है

मल्टीलेयर फार्मिंग अपने खेत में किस तरह से करें

मल्टीलेयर फार्मिंग में 2 बेड के बीच की दुरी 10 फीट रखना है यानी की 2 लाइन के बीच की दुरी 10 फीट और एक पौधे से दुसरे पौधे के बीच की दुरी भी 10 फीट रखना है यह हम अमरुद खेती के लिए बता रहे है यह अलग अलग फसल के लिए अलग अलग दुरी हो सकती है आप खाली पड़ी जगह में तीसरी फसल ले सकते है

आप तीसरी फसल के रूप में मेथी ,पालक ,धनिया ,फूलगोभी ,पत्तागोभी ,हल्दी और अदरक जैसी फसले ले सकते है जिनकी hight 2 या 2 फीट से कम रहती है और साथ ही साथ जिन फसलो में लीफ कर्ल वायरस की समस्या देखने को नहीं मिलती है जैसे की टमाटर और मिर्च की फसल इन फसलो का चुनाव हम इस मल्टीलेयर फार्मिंग के मॉडल में नहीं करना है अगर आप अमरुद या मोहगनी के साथ खाली पड़ी जगह में इन सब्जिय वर्गीय फसल को लगा सकते है

आप मोह्गनी की जगह सहजन की फसल को लगा सकते है अगर आपके एरिया में सहजन का अच्छा मार्केट है तो आप मोह्गनी की जगह सहजन लगा सकते है सहजन को मोरिंगा भी कहा जाता है जब आप सहजन की फसल लगायेंगे तो 2 बेड में पड़ी जगह पर आप उन फसलो की बुवाई करना है जिनकी बुवाई हम छाया में भी कर सकते है जैसे की हल्दी और अदरक

इसके साथ खेत की बाउंड्री के आसपास हम बेल वर्गीय फसलो की बुवाई करेंगे ताकि हमें 1 एकड़ से 4 फसलो से उत्पादन मिले पहली फसल अमरुद दूसरी फसल सहजन या मोह्गनी रहेगी तीसरी सब्जिय वर्गीय फसल रहेगी और चौथी बेल वर्गीय फसल रहेगी यह तरीके आप आपके मल्टीलेयर फार्मिंग में कर सकते है

मल्टीलेयर फार्मिंग से मल्टीपल लाभ

पहली फसल : अब आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा की 1 एकड़ से 5 इतनी एकड़ कमाई कैसे होगी तो हम आपको समझाते है अगर आपने 10 by 10 की दुरी पर 1 एकड़ में अमरुद के पौधे लगाये तो 1 एकड़ में कुल 400 पौधे लगेगे अगर हमें अमरुद के एक पौधे से 500 रूपए भी मिलते है जब अमरुद की फसल से अच्छा उत्पादन मिलेगा तो 20 से 30 किलो अमरुद एक पौधा हमें आसानी से दे देता है

अमरुद के एक पौधे से 500 रूपए मिलते है तो 400 पौधे से हमें 2 लाख रूपए मिलेंगे तो इस तरह अमरुद की फसल से आमदनी होगी 2 लाख रूपए

दूसरी फसल : अगर सहजन के 1 पौधे से 400 भी मिलते है और हमने सहजन के 400 पौधे लगाये इस तरह से हमें सहजन की फसल से 1 लाख 60 हजार तक की आमदनी होगी

तीसरी फसल : अगर आप इसके साथ सब्जिय वर्गीय फसल लगाते है और पुरे साल आप 1.5 लाख तक की भी कमाई करते है तो बहुत है

इस तरह से हम तीनो फसलो का कैलकुलेट करते है तो यह 5 लाख 10 हजार के आसपास आता है यानी की जो भी किसान भाई 1 एकड़ से 1 से 1.5 लाख रूपए की इनकम कर रहा है तो वह इस मॉडल के जरिये 5 लाख से ज्यादा की भी कमाई कर सकता है इस तरह से हम 1 एकड़ से 5 एकड़ की कमाई लेते है

अब जो किसान भाई सहजन की जगह मोह्गनी लगाता है तो मोह्गनी के पौधे को तैयार होने में 15 साल तक का समय लग जाता है और एक पौधा हमें 12,000 रूपए के आसपास हमें दे देता है इस तरह 400 पौधे से जो इनकम होगी वह 42 लाख के आसपास होगी और इसे 15 साल को into प्रति वर्ष करते है तो हमें मोह्गनी की फसल से प्रति वर्ष 3 लाख रूपए की आमदनी देखने को मिलती है

जो भी किसान मल्टीलेयर फार्मिंग की सुरुआत करना चाहता है तो वह फरवरी के महीने से सुरुआत कर सकता है अगर मल्टीलेयर फार्मिंग से जुड़े हुए आपके कोई भी सवाल है आप कमेंट में पूछ सकते है