समर्थन मूल्य पर 2275 रूपए प्रति क्विंटल गेहूं खरीदेंगी सरकार, देखिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया और पूरी जानकारी 

MSP wheat purchase 2024 | पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2700 रुपए एवं धान का समर्थन मूल्य 3100 रुपए प्रति क्विंटल दिए जाने की गारंटी दी थी। पीएम की इस गारंटी की चर्चा अभी नहीं हो रही है जबकि दूसरी ओर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचने के लिए पंजीयन की प्रक्रिया शुरू होने की दिनांक घोषित हो चुकी है। खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2275 रुपए निर्धारित किया गया है। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी MSP wheat purchase 2024 की पूरी गाइडलाइन क्या है, आईए जानते हैं..

पीएम मोदी की गारंटी मिलेगी या नहीं

विधानसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गेहूं 2700 रुपए प्रति क्विंटल व धान 3100 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदने MSP wheat purchase 2024 की गारंटी थी, धान खरीदी पूरी हो चुकी है, लेकिन धान को मोदी की गारंटी नहीं मिली। अब गेहूं को प्रधानमंत्री मोदी की गारंटी मिलेगी या नहीं, यह स्पष्ट नहीं किया है। गाइड लाइन में इसका जिक्र नहीं है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस व भाजपा ने किसानों को लुभाने के लिए प्रदेश में धान व गेहूं अधिक रेट पर खरीदने की गारंटी दी थी।

MSP wheat purchase 2024 सरकार बनने के बाद दोनों ही उपजी के रेट भी घोषित किए थे। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने गारंटी दी थी कि सरकार बनने पर प्रदेश में 3100 धान व 2700 रुपए क्विंटल गेहूं खरीदा जाएगा। चुनाव में किसानों के बीच 2700 रुपए की गारंटी का जिक्र था। किसान इसे एक बड़ी राहत समझ रहे है, क्योंकि 2700 रुपए क्विटल खरीदने पर किसान को मुनाफा होगा।

पंजीयन 5 फरवरी से 1 मार्च के तक

MSP wheat purchase 2024 खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद करने के लिए पंजीयन की गाइड लाइन जारी कर दी है। 5 फरवरी से 1 मार्च के बीच किसान अपना पंजीयन कर सकते हैं गेहूं का समर्थन मूल्य 2275 रुपए निर्धारित किया है।

गेहूं खरीद के लिए गाइड लाइन

MSP wheat purchase 2024 -; 5 फरवरी से 1 मार्च तक अपना पंजीयन कर सकते हैं। सहकारी समितियों पर बने पंजीयन केंद्र, कियोस्क सेंटर, किसान ऐप से पंजीयन कर सकते हैं। गेहूं की फसल बेचने के लिए किसान स्लॉट बुक करना होगा।अपने बुक स्लॉट पर गेहूं लेकर केंद्र पर पहुंचना होगा। आधार से लिंक खाते में रुपए उपज का पैसा ट्रांसफर किया जाएगा। आधार ओटीपी से किसान का सत्यापन होगा। फसल बेचने के लिए भाई, पिता, पुत्र, पति को अधिकृत कर सकते हैं। नामित व्यक्ति का आधार सत्यापित किया जाएगा। MSP wheat purchase 2024 बटाई, सिकमी किसान सहकारी समिति पर पंजीयन करा सकेंगे। उन्हें एग्रीमेंट पेश करना होगा। 10 फीसदी किसानों की फसल की रेंडम जांच की जाएगी।

पंजीयन के प्रति किसानों में उत्साह कम

MSP wheat purchase 2024 यदि पंजीयन से पहले गेहूं के रेट 2700 रुपए घोषित किए जाते हैं तो अधिक किसान आकर्षित होंगे और किसानों का पंजीयन बढ़ सकता है। सीजन के दौरान गेहूं मंडी में काफी सस्ता हो जाता है। 1900 से 2000 रुपए क्विंटल रहता है। इस कारण किसान नुकसान उठाना पड़ता है। पिछले तीन बार से खरीद नहीं हो रही है। किसानों ने पंजीयन भी कम कराया है।

425 रुपए प्रति क्विंटल बोनस देने की चर्चा

केंद्र सरकार ने 2023 में गेहूं का न्यूनतम समर्थन MSP wheat purchase 2024 मूल्य 7% बढ़ाया था पिछले वर्ष गेहूं का समर्थन मूल्य 2125 रुपए प्रति क्विंटल था जो 150 रुपए बढ़कर 2275 रुपए किया गया। इसके बाद विधानसभा चुनाव के दौरान 2700 रुपए प्रति क्विंटल किए जाने की गारंटी दी थी। MSP wheat purchase 2024 खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के सूत्रों के अनुसार सरकार किसानों को बोनस के रूप में 425 रुपए प्रति क्विंटल अतिरिक्त दे सकती है। इस आशय का अधिकृत आदेश समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के पहले ही जारी होने की संभावना है।