Wheat Variety: गेहूं की यह किस्में किसानों को देंगी बंपर पैदावार,एक हेक्टेयर में देंगी 26 क्विंटल प्रति हेक्टेयर 

Wheat variety DBW 303: किसानों को बना देगी मालामाल , गेंहू की इस किस्म से मिलेगी सर्वाधिक 26 क्विंटल हेक्टेयर उपज सबसे ज्यादा पैदावार,  गेहूं पांच नई वैरायटी  टॉप गेहु कि किस्मे जो किसानों को बना देगी मालामाल इस किस्म में 81.2 क्यू/हेक्टेयर की औसत उपज है, और 97.4 क्यू/हेक्टेयर की संभावित उपज है। DBW 303 में एक अच्छा चपाती स्कोर है और एक औसत पौधे की ऊंचाई 101 सेमी है। यह 156 दिनों में परिपक्व होती है और इसमें काले और पीले जंग के लिए अत्यधिक उच्च प्रतिरोध होता है। गेहूं एवं जौ अनुसंधान केंद्र करनाल द्वारा विकसित की गई डीबीडब्ल्यू 303 से बंपर पैदावार, जानें इस वैरायटी की खासियत एवं पूरी डिटेल..

DBW 303 गेहूँ कि नई वैरायटी 2024

खेती घाटे का सौदा है, यह हम सालों से सुनते आ रहे। लेकिन यदि उन्नत तकनीक एवं वैज्ञानिक तरीके से खेती करने पर बढ़िया कमाई कर सकते हैं। ऐसा ही कुछ एमपी के किसान ने कर दिखाया। पिछले सीजन 2022/23 में उन्होंने करनाल स्थित गेंहू एवं जौं अनुसंधान संस्थान द्वारा विकसित की गई गेंहू की नई किस्म से 26 क्विंटल प्रति एकड़ तक उत्पादन निकाला है।उनका कहना है की, यदि इस किस्म की सही से बुवाई की जाए तो 30 से 35 क्विंटल प्रति एकड़ तक उपज ले सकते है। इस किस्म का नाम है डीबीडब्ल्यू 303 “करण वैष्णवी” । बता दे की, DBW 303 किस्म पिछले सीजन काफी डिमांड में थी।

खेती में नवाचार कर रहे के किसान

मध्यप्रदेश के नर्मदापुरम जिले के अंतर्गत इटारसी के एक छोटे से घाटली गांव के किसान विपिनचंद्र पटेल अपने खेत में नवाचार कर रहे हैं। पिछली बार उन्होंने प्रति एकड़ 19 क्विंटल गेहूं DBW 303 पैदा किया था। उत्पादन बढ़ाने के लिए उन्होंने बीजों की किस्में इंटरनेट पर देखीं। उन्हें पता चला कि गेहूं एवं जौ अनुसंधान केंद्र करनाल ने करण वैष्णवी डीबीडब्ल्यू 303 किस्म विकसित की है। रिसर्च सेंटर का दावा था कि अनुकूल परिस्थितियों में उत्पादन 37 क्विंटल प्रति एकड़ से ज्यादा होगा।

उन्होंने बीज करनाल से बुलवाया। आसपास के किसान क्षेत्र में प्रचलित किस्म 322, श्रीराम 303, 111 के बीज बो रहे थे। इन बीजों से प्रति एकड़ से ज्यादा 16-17 क्विंटल पैदावार DBW 303 होती है। विपिनचंद्र ने अनुसंधान केंद्र से विकसित बीज 12 एकड़ के खेत में बोए। फसल कटी तो प्रति एकड़ 26 क्विंटल गेहूं निकला। वे बोले, नवंबर के अंत में देरी से बोवनी की थी। यदि 20 अक्टूबर से 10 नवंबर तक बोते तो 30 क्विंटल की पैदावार निकलती। इस गेहूं के बारे में अधिक जानकारी हेतु आप कृषक से संपर्क कर सकते है।

DBW 303 किस्म की खासियत

इस किस्म के गेहूं से बनी रोटियां भी बहुत स्वादिष्ट व सेहतमंद मानी जाती हैं। इस किस्म की यह खासियत है की इसकी खेती कर अगले साल के लिए अपना बीज तैयार कर सकते हैं। गेहूं की डीबीडब्ल्यू 303 किस्म की फसल 145 – 156 दिन में पूरी तरह पककर तैयार हो जाती है। लगभग 70 से 80 दिनों के आसपास पौधे में बाली आ जाती है। करण वैष्णवी डीबीडब्ल्यू 303 किस्म से औसत पैदावार 81.2 क्विंटल प्रति हेक्टेयर तथा अधिकतम पैदावार 97.4 क्विंटल हेक्टेयर तक प्राप्त कर सकते है।डीबीडब्ल्यू 303 का चपाती स्कोर अच्छा है और पौधे की औसत ऊंचाई 101 सेमी है। यह 156 दिनों में पक जाता है और इसमें काले और पीले रतुआ के प्रति अत्यधिक उच्च प्रतिरोध है।

DBW 303 wheat variety detail 

डीबीडब्ल्यू 303, 171, 187, 327 किस्म या गेंहू की अन्य किस्मों का बीज लेने के लिए आप उज्जैन स्थित श्री गायत्री ट्रेडर्स सीड्स कंपनी से संपर्क कर सकते है। यहां नीचे दिए गए नंबर पर संपर्क करेंWheat variety DBW 303। उन्होंने कहा कि अधिक उपज देने वाली किस्मों में डीबीडब्ल्यू 187, डीबीडब्ल्यू 303, डीबीडब्ल्यू 222 और एचडी 3226 शामिल हैं। उन्होंने कहा कि ये किस्में ज्यादातर हरियाणा, पंजाब, पश्चिम यूपी और राजस्थान में बोई जाती हैं।

उत्पाद विवरण\ Product Details

ब्रांड बेस्ट सीड्स करनाल

उपयोग/अनुप्रयोग कृषि

पैकेजिंग साइज 40 किलो

प्राकृतिक टाइप करें

पैकेजिंग प्रकार बैग

शुद्धता 99%

बीज का निर्माण

शेल्फ जीवन 12 महीने

भंडारण निर्देश इसे ठंडी और सूखी जगह पर रखें

भूरा रंग

ग्रेड डीबीडब्ल्यू 303

न्यूनतम ऑर्डर मात्रा 40 किलोग्राम