इस राज्य में किसानों की फसल को भारी नुक़सान, किसानों को राहत देने के लिए आदेश जारी, पढ़ें खबर

Kisan News: रबी की फसल में बारिश और ओलावृष्टि से नुकसान का मामला, राजस्व विभाग ने दिए विशेष गिरदावरी के निर्देश, सभी जिला कलेक्टर्स को जारी किए निर्देश, जल्द से जल्द गिरदावरी के निर्देश, रिपोर्ट तैयार करवा कर सीधे आपदा प्रबंधन और सहायता विभाग को भेजने के लिए कहा, कल प्रदेश में कई जगह हुई थी बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि।

रबी की फसल में बारिश और ओलावृष्टि से कियानों को भारी नुकसान हुई है। इसी कड़ी में राजस्व विभाग ने विशेष गिरदावरी के निर्देश दिए हैं। सभी जिला कलेक्टर्स को जल्द से जल्द गिरदावरी के निर्देश जारी किए गए हैं। रिपोर्ट तैयार करवा कर सीधे आपदा प्रबंधन और सहायता विभाग को भेजने के लिए कहा गया है। पीछले दो दिनों से प्रदेश में कई जगह बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि हुई थी।

कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने बताया कि राज्य में वर्तमान में कई स्थानों पर ओलावृष्टि एवं अतिवृष्टि के कारण किसानों की फसलों में नुकसान होने की आशंका है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अन्तर्गत ओलावृष्टि एवं जलभराव के कारण बीमित फसल में नुकसान होने पर किसान को व्यक्तिगत आधार पर बीमा आवरण उपलब्ध कराने का प्रावधान है। रबी 2022 की बीमित फसल को जलभराव के कारण नुकसान होने पर घटना घटने के 72 घण्टे में जिले में कार्यरत बीमा कंपनी को सूचना देना आवश्यक है।

साथ ही खेत में काटकर सूखने के लिए रखी गई बीमित फसल को चक्रवात, बेमौसमी वर्षा तथा ओलावृष्टि के कारण नुकसान होने पर 14 दिवस तक की अवधि के लिए व्यक्तिगत बीमा आवरण उपलब्ध है। किसान फसल में हुई हानि की सूचना बीमा कंपनी के टोल फ्री नम्बर अथवा क्रॉप इंश्योरेंस ऐप के माध्यम से दे सकते हैं। इसके अलावा प्रभावित किसान जिलों में कार्यरत बीमा कंपनी, कृषि कार्यालय अथवा संबंधित बैंक को भी हानि प्रपत्र भरकर सूचना दे सकते हैं। परन्तु किसान द्वारा घटना घटने के 72 घण्टे में संबंधित बीमा कम्पनी को सूचित किया जाना आवश्यक है।

कृषि आयुक्त कानाराम ने सभी जिलों के संयुक्त निदेशको को निर्देशित किया कि समस्त प्रभावित बीमित फसल की सूचना किसानों द्वारा दर्ज किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने राज्य में कार्यरत बीमा कम्पनी के टोल फ्री नंबर की जानकारी देते हुए बताया कि बारां, धौलपुर, हनुमानगढ़, बाडमेर, झुन्झुनू, करौली एवं उदयपुर जिले के किसान एग्रीकल्चर इन्श्योरेन्स कंपनी ऑफ इण्डिया लिमिटेड के टोल फ्री नंबर 18004196116 पर सूचना दे सकते हैं।

इसी प्रकार चूरू, भीलवाडा, राजसमन्द, दौसा, झालावाड, श्रीगंगानगर एवं अलवर जिले के किसान एसबीआई जनरल इन्श्योरेन्स कंपनी लिमिटेड के टोल फ्री नंबर 18002091111, बांसवाडा, नागौर भरतपुर, जयपुर, पाली एवं प्रतापगढ़ के काश्तकार रिलायन्स जनरल इन्श्योरेंस कम्पनी लिमिटेड के टोल फ्री नंबर 18001024088 तथा बूंदी, डुंगरपुर एवं जोधपुर के किसान फ्यूचर जनरली इण्डिया इन्श्योरेन्स कम्पनी लिमिटेड के नंबर 18002664141 पर सूचना दे सकते हैं। इसी तरह अजमेर, जालौर, सवाई माधोपुर एवं कोटा के किसान बजाज अलायन्ज जनरल इंश्योरेन्स कम्पनी लिमिटेड के नंबर 18002095959, जैसलमेर, सीकर एवं टोंक के किसान एचडीएफसी एग्रो जनरल इंश्योरेन्स कम्पनी लिमिटेड के नंबर 18002660700 तथा बीकानेर, चितौड़गढ़ एवं सिरोही के काश्तकार यूनिवर्सल सोम्पो जनरल इन्श्योरेन्स कम्पनी लिमिटेड के टोल फ्री नंबर 18002005142 पर सूचित कर सकते हैं।

  social whatsapp circle 512WhatsApp Group Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now