MSP से भी ज्यादा रेट पर इस फसल को खरीदेगी सरकार, मात्र 3 दिन में आ जाएगा किसानों के खातों मे पैसा,

MSP से ज्यादा भी ज्यादा रेट पर इस फसल को खरीदेगी सरकार, मात्र 3 दिन में आ जाएगा किसानों के खातों मे पैसा, केंद्रीय गृहमंत्री ने की घोषणा

भारतीय सरकार ने तुअर दाल की खरीद के मामले में मिनिमम सपोर्ट प्राइस (MSP) से ज्यादा देने का फैसला किया है। इसके तहत, NAFED और NCCF जैसी एजेंसियां ‘डायनैमिक प्राइस’ फॉर्मूला का उपयोग करके तुअर दाल खरीदेंगी। इस नई पहल के तहत, किसानों को तुअर की फसल को बेचने के लिए तीन दिनों में भुगतान होगा।

केंद्र सरकार ने तुअर दाल के मामले में किसानों को एक और तोहफा देने का फैसला किया है। सरकार ने निर्धारित समय में तुअर दाल की खरीद का भुगतान करने का ऐलान किया है ताकि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य से अधिक मिल सके।

सरकार ने NAFED और NCCF जैसी एजेंसियों को तुअर दाल की खरीद प्रक्रिया की जिम्मेदारी दी है। इन एजेंसियों को ‘डायनैमिक प्राइस’ फॉर्मूला के तहत MSP से अधिक देने का अधिकार होगा, जिससे किसानों को अधिक मुनाफा होगा।

इस नए प्रक्रिया के अनुसार, तुअर की मंडी की कीमतें एक सप्ताह के आधार पर तय की जाएंगी, जिसमें खरीद का भुगतान किसानों के बैंक खातों में तीन दिनों में किया जाएगा। इससे किसानों को बाजार मूल्य के अनुसार उचित मूल्य मिलेगा और उन्हें बेचैनी से मुक्ति मिलेगी।

इस कदम से सरकार बिचौलियों की भूमिका को समाप्त करने का लक्ष्य रख रही है और किसानों को अधिकतम लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रही है। सरकारी अधिकारी ने बताया कि इससे किसानों को मुनाफा होगा और भारत को आवश्यक बफर स्टॉक भी मिलेगा।

केंद्रीय गृहमंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह जल्द ही तुअर की नई खरीद प्रक्रिया की शुरुआत करने का प्लान बना रहे हैं। इससे किसानों को तुरंत बेहतरीन मूल्य मिलेगा और उन्हें अपनी खेती में सकारात्मक परिणाम मिलेंगे।

इस नए कदम से सरकार ने न केवल किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने का प्रयास किया है, बल्कि भारत के खाद्य सुरक्षा की दिशा में भी कदम बढ़ाया है। इस नए पहल के माध्यम से, किसानों को सही मूल्य मिलने से लेकर, उन्हें बेहतर बाजार एक्सेस भी होगा।