Kisan News: भैंस को यह खुराक दें पशुपालक,कुछ ही दिनों में इतना लीटर बढ़ जाएगा दूध 

Bhes ka dudh kese badaye: भारत देश में दूध एक ऐसी चीज है जिसकी डिमांड हर समय बनी रहती है। दूध में भैंस का दूध सबसे अधिक डिमांड पर रहता है क्योंकि भैंस का दूध गाय के दूध की तुलना में थोड़ा मोटा होता है। कुछ दिनों में गर्मियों के दिन आने वाले हैं जिसकी वजह से गाय भैंस के दूध देने की क्षमता घट जाएगी। कुछ गाय भैंस के दूध देने की क्षमता तो आधी रह जाती है। ऐसी स्थिति होने के बाद किसान पशुपालक भैंस का दूध बढ़ाने के उपाय खोजने हैं लेकिन वह सफल नहीं हो पाते हैं। आज हम आपको भैंस का दूध बढ़ाने के लिए उचित उपाय की जानकारी प्रदान करेंगे। ‌

भैंस का दूध कैसे बढ़ाएं: इस समय बाजार में बहुत सारी ऐसी दवाइयां भी मौजूद है जो ये दावा करती है की उनके इस्तेमाल से Bhains Ka Doodh बढ़ जायेगा और उनसे कुछ फायदा भी मिलता है। लेकिन किसान भाई को अगर कुछ ऐसे आसान तरीके मिल जाए तो फिर दवाई देने से ज्यादा लाभ इनसे होता है। देखिये यहां इस आर्टिकल में Bhains Ka Doodh Badhane Ki Dawa के बारे में पूरी जानकारी।

आमतौर पर गावं देहात में ये देखा जाता है की जब भी भैंस कम दूध देने लगती है तो उसको इंजेक्शन देने लगते है ताकि उससे जयदा दूध प्राप्त किया जा सके लेकिन ये बहुत ही खतरनाक होता है और कभी भी अपने पशु को दूध निकलने के लिए इंजेक्शन नहीं लगाना चाहिए। ये ऑक्सीटोसिन का इंजेक्शन पशुओं को तो बेहद नुकशान पहुंचता ही है साथ में आप जिस दूध को उस भैंस से निकलकर पिने वाले है उस दूध से भी आपको और आपके बच्चों को बहुत नुकसान होता है।

आपको बता दें की ऑक्सीटोसिन के इंजेक्शन पर सरकार की तरफ से काफी सालों से बैन लगाया हुआ है लेकिन फिर भी किसान भाइयों को जुगाड़बाजी से ये मिल जाता है। लेकिन इस ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन को खरीदना, इस्तेमाल करना और बेचना तीनो ही कानूनन जुर्म है और आपको इसके लिए सजा भी हो सकती है।

अपनाये हमेशा नुकसान रहित तरीका

भैंस और दूसरे पशुओं का दूध बढ़ाने के लिए आप सभी को हमेशा सबसे पहले प्राकृतिक तरीकों को अपनाना चाहिए क्योंकि इन तरीकों से दूध तो बढ़ता ही है साथ में भैंस की सेहत भी और तंदरुस्त बनती है। भैंस के स्वस्थ को अगर कोई नुकसान नहीं होगा तो फिर आपको Bhains Ka Doodh भी अधिक मिलेगा। किसान भाइयों को इसके लिए भैंस के चारे पर ध्यान देना होता है लेकिन लेकिन में किन किन बातों का दयँ रखना है इसके लिए यहां देखिये।

भैंस का दूध बढ़ेगा लोबिया खिलाने

भैंस को किसान भाई अगर लोबिया खिलते है तो इससे दूध बढ़ता है। भैंस को लोबिया खिलने से उसके स्वस्थ को भी बहुत लाभ होता है दूध की मात्रा भी चमत्कारिक रूप से बढ़ जाती है। लोबिया घास पशुओं के लिए स्वास्थवर्धक होती है और इसमें प्रोटीन और फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होने के कारण पशुओं को लाभ भी अधिक मिलता है।

दुधारू पशुओं के लिए लोबिया घर बहुत फायदेमंद होने का दूसरा कारण ये भी है की ये घास दूसरी घास की तुलना में जल्दी पच जाती है जिससे पाचन क्रिया जल्दी होने से पशु का स्वस्थ भी सही रहता है और प्राकृतिक रूप से इससे Bhains Ka Doodh भी बढ़ जाता है। इसलिए किसान भाइयों और पशुपालक भाइयों को सबसे पहले अपनी Bhains Ka Doodh बढ़ाने के लिए लोबिया घास को खिलाना शुरू कर देना है। कुछ ही समय में आपको फर्क नजर आने लगेगा।

घर पर बनाये Bhains Ka Doodh Badhane Ki Dawa

आप सभी प्राकृतिक चीजों के जरिये पाने घर पर ही अपनी Bhains Ka Doodh Badhane Ki Dawa को बना सकते है। इसके लिए आपको सबसे पहले 250 ग्राम सरसों का तेल लेना है और इसके साथ में आपको इतना ही यानि 250 ग्राम गेहूं का आटा लेना है। अब आपको इस आते को सरसों के तेल में गूथ लेना है और इसकी लेइ बनाकर रोजाना शाम के समय जब पशु चारा खाकर और पानी पीकर विश्राम करता है उस समय खिलाना है। इसमें आपको ध्यान रखना है की ये सरसों के तेल और गेहूं के आते से बनी लेइ को खिलने के बाद पशु को पानी नहीं पिलाना है।

घर पर आसानी से बनने वाली Bhains Ka Doodh Badhane Ki Dawa से बहुत ही फायदा होता है। इसके इस्तेमाल के बाद भैंस का दूध बढ़ने लगता है। इस दवाई का इस्तेमाल आपको सप्ताह में दो दिन तक करना है और दो सप्ताह में ही आपको परिणाम मिलना शुरू हो जायेगा। बहुत से पशुपालक भाई इस दवाई का इस्तेमाल सालों से करते आ रहे है। इस दवाई को खिलने के बाद आपको भैंस को पानी नहीं पिलाना है क्योंकि इससे पशु को खांसी की समस्या हो सकती है। इसके साथ ही चारा भी नहीं खिलाना है। इसलिए दवाई देने से [पहले ही पशु के चारे और पानी का प्रबंध अच्छे से कर लेना चाहिए।

Bhains Ka Doodh Badhane Ki Dawa ऐसे करें तैयार

ऊपर बताये गए उपायों के अलावा आप यहां निचे बताये गए Bhains Ka Doodh Badhane Ka Upay को भी कर सकते है। इससे भी Bhains Ka Doodh बढ़ाने में बहुत अधिक लाभ मिलता है। इसके लिए आपको कुछ देशी जड़ी बूटियों की जरुआत होगी जो की इस प्रकार से हैं।

100 ग्राम गुड़

50 ग्राम मेथी

25 ग्राम जीरा

25 ग्राम अजवाइन

250 ग्राम गेहूं का दलिया

एक कच्चा नारियल

ये सभी सामग्री लेने के बाद अब आपको इन सबके जरिये Bhains Ka Doodh Badhane Ki Dawa को बनाना है। इसके लिए आपको सबसे पहले आपको दलिया और मैथी को पकाना है और इसमें गुड़ को भी डाल देना है। अब इससे जो मिश्रण तैयार होगा उसमे आपको कच्चे नारियल को भी पीस कर डाल देना है। बस आपको दवाई तैयार है और इसको आपको अपने पशु को ब्याने के बाद एक महीने तक खिलानी है। इससे Bhains Ka Doodh बढ़ाने में में बहुत लाभ होता है और इसके साथ में आपको 25 ग्राम अजवाइन को 25 ग्राम जीरा भैंस को ब्याने के तीन दिन तक रोजाना खिलाना है और इससे भी दूध बढ़ाने में लाभ मिलता है।

आपको बता दें की ये दवाई आपको अपने पशु को सुबह सुबह खली पेट दे देनी है यानि की सुबह का चारा देने से पहले आपको अपनी भैंस को ये दवाई खिलानी है। ऐसा करने से आपको एक महीने में ही अच्छे परिणाम मिलेंगे। इसके अलावा आपको पशु के हरे चारे पर भी ध्यान देना होगा। दुधारू पशु को हमेशा उसके चारे में हरा चारा मिक्स करके खिलाना चाहिए इससे पशु दूध अधिक देता है।