मौसम समाचार: मौसमफिर शैतान बनेगा मौसम,5 दिनों तक इन राज्यों में होंगी धमाकेदार बारिश, देखें मौसम रिपोर्ट

Weather Forecast Heavy Rain And Storm From Tomorrow: राजस्थान में एक बार फिर से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने जा रहा है। इसमें आंधी और बारिश के कारण तापमान तीन डिग्री तक नीचे गिरेगा। राजस्थान में एक बार फिर से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने जा रहा है। भारतीय मौसम विभाग के जयपुर केंद्र ने बताया है कि राजस्थान में ऊपर एक नया पश्चिमी विक्षोभ मंडरा रहा है। मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने बताया है कि नए पश्चिमी विक्षोभ 13 मई से दोपहर बाद जोधपुर, बीकानेर संभाग और शेखावाटी में बारिश कराएगा। मेघगर्जन के साथ यहां कहीं-कहीं तेज आंधी 30-50 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से चलेगी।

मौसम विभाग के वैज्ञानिक और केंद्र निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि 14 मई को भी जोधपुर, बीकानेर संभाग और शेखावाटी में बारिश कराएगा। मेघगर्जन के साथ यहां कहीं-कहीं तेज आंधी 30-50 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से चलेगी। 15 और 16 मई को आंधी बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होने से तापमान में दो से 3 डिग्री गिरावट होने की संभावना है।

गौरतलब है मार्च में सात और अप्रैल में पांच पश्चिमी विक्षोभ आए। इसके कारण तपने वाला राजस्थान बहुत ही ठंडा रहा। न बिजली की मांग बढ़ी और न पानी की किल्लत हुई। मई के पहले सप्ताह में भी दो विक्षोभ आने के कारण मौसम सुहाना बना रहा। अब यह तीसरा पश्चिमी विक्षोभ आने जा रहा है। इसमें आंधी और बारिश के कारण तापमान तीन डिग्री तक नीचे गिरेगा।

48 घंटे में पारा 45 पार

वर्तमान में जोधपुर संभाग में कहीं-कहीं तापमान 44 डिग्री से ऊपर दर्ज किया जा रहा है। आगामी 48 घंटों में तापमान में और 1 से 2 डिग्री बढ़ोतरी होने की प्रबल संभावना है। 12-13 मई को पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर व बीकानेर संभाग के जिलों में अधिकांश भागों में हीटवेव चलने की प्रबल संभावना है। इस दौरान यहां अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के ऊपर दर्ज होने की संभावना है।पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में अधिकतम तापमान 42 से 44 डिग्री के बीच दर्ज होने की संभावना है।

अभी दूर है तूफान

मध्य और आसपास के दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर स्थित अत्यंत प्रचण्ड चक्रवाती तूफान “मोखा” पिछले 06 घंटों के दौरान 13 किमी प्रति घंटे की गति के साथ लगभग उत्तर दिशा की ओर बढ़ा रहा है। 12 मई 2023 को मध्य और आसपास के दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी में लगभग 13.6°N अक्षांश और 88.2°E देशांतर के पास केंद्रित था। इसके उत्तर-उत्तरपूर्व दिशा में बढ़ते हुए और अधिक घनीभूत होने की सम्भावना है। 14 मई 2023 की दोपहर के आसपास इसके एक अत्यंत प्रचंड चक्रवाती तूफान के रूप में दक्षिण-पूर्व बांग्लादेश और उत्तरी म्यांमार को छूने की संभावना है।