किसानों को दिवाली पर केंद्र सरकार देंगी बड़ा तोहफा,इन 4 लाख किसानों को मिलेगा योजना का लाभ 

Kisan Karj Maafi Yojna 2023 :  किसान कर्ज माफी योजना से संबंधित एक बड़ी अपडेट सामने आई है जिसके बारे में हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे। आपको बता दे की किसान कर्ज माफी योजना का लाभ अभी तक लाखों किसानों को मिल चुका है एवं यह प्रक्रिया अभी जारी है।  इसी क्रम में एक बार फिर से बड़ी अपडेट सामने आई है जिसके तहत अब 4 लाख किसानों का कर्ज़ माफ किया जाएगा तो आइये इसके न्यू अपडेट विस्तार पूर्वक लेटेस्ट अपडेट जानते हैं।

दोस्तों किसान शुरुआत से भारत में खेती करने को लेकर संघर्ष कर रहे हैं, भारत सरकार केवल उन्हीं लोगों को सब्सिडी देती है, जिनके पास खुद का जमीन होता है उनको सरकारी योजनाओं का लाभ भी प्राप्त होता है लेकिन ऐसे किस जिनके पास ना तो जमीन होती है और ना ही ट्रैक्टर इसके बावजूद भी वह दूसरे के जमीन में खेती करके अपना गुजारा करते हैं लेकिन ऐसे किस जिन्होंने किसान लोन लिया है उनके लिए भारत सरकार ने किसान कर्ज माफी योजना के तहत उनके कर्ज को माफ करेगी लेकिन इसमें कुछ नियम एवं शर्तें लागू है।

किसान पूरे वर्ष किसी न किसी परेशानी के साथ गुजरता है कभी सुख तो कभी फसल खराब हो जाती है जिसके कारण किसानों को मुनाफा नहीं होता एवं इसे किस बैंक से कर्ज लेते हैं। ऐसे किस जिन्होंने पूर्व ही कर्ज ले चुके हैं उनके लिए यह योजना चलाई जा रही है इस योजना के तहत अभी तक कई राज्य सरकार कर्ज माफ कर चुकी है।हाल ही में झारखंड सरकार द्वारा किसानों का कर्ज माफ करने के लिए घोषणा की गई है जिसके तहत झारखंड के कर्जदार किसान को बड़ी राहत को मिलेगी।

इन 4 लाख किसानों का होगा कर्ज माफ

झारखंड सरकार ने यह घोषणा किया है कि किसान कर्ज माफी योजना के तहत कर्जदार किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा। इसके लिए हाल ही में कृषि विभाग द्वारा बैंक अधिकारियों के साथ मीटिंग आयोजित की गई। इस मीटिंग में एनपीए घोषित खाताधारक का कोई सटीक फैसला नहीं लिया गया है। इस पर बोर्ड का कहना है कि बाकी राज्य सरकार जिस प्रकार इस समस्या का समाधान की है, ठीक उसी मॉडल को झारखंड में भी अपनाया जाएगा।। झारखंड सरकार ने इस फैसले पर हामी भारी है एवं यह कहा गया है कि सभी एनपीए खाताधारकों किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा।आपको बता दे कि झारखंड में कुल 4 लाख से अधिक किसान है एवं कुल 34700 किसानों ने किसान कर्ज माफी योजना के तहत कर्ज माफ के लिए आवेदन किया है।

झारखंड के किसानों के कर्ज का आकलन करने पर यह पाया गया कि कल 17000 करोड रुपए का कर्ज बैंकों पर बकाया है। झारखंड सरकार द्वारा यह कहना है कि पिछले वित्त वर्ष में कृषि ऋण माफी योजना के तहत 4.14 लाख किसानों का कर्ज माफ किया जा चुका है। जिसका कुल खर्च 1818 करोड रुपए आया था। इसके अलावा भी 4 लाख ऐसे किसान बचे हुए हैं जिनका अभी तक कर्ज माफ नहीं हुआ है। एवं यह सभी एनपीए धारक है सरकार उनके लिए भी निर्णय ले चुकी है सरकार द्वारा कर्ज माफ करने की योजना शुरू कर दिया गया है जिसमें प्रत्येक किसानों का ₹50000 तक ऋण माफ किया जाएगा।

झारखंड सरकार द्वारा यह स्पष्ट कर दिया गया है कि सभी एनपीए खाताधारक किसानों का कर्ज कुछ शर्तो पर माफ किया जाएगा। इसके लिए झारखंड सरकार ने अन्य राज्य कर्नाटक का मॉडल अपने का निर्णय लिया है। इसमें किसानों के कर्ज का कुल भुगतान में से 50% झारखंड सरकार सरकारी योजना के तहत तथा 25% बैंक और 25% किसान चुकाएंगे। इस प्रक्रिया को लागू करने से पहले किसानों को अपने खाते से हिस्सेदारी के माध्यम से एनपीए हटाना होगा। आपको बता दे की 3 वर्ष से अधिक यदि किसी खाते में लेनदेन नहीं किया गया हो, तो उसे एनपीए घोषित कर दिया गया है। अब उन किसानों को एनपीए हटाना होगा तभी वह किसान कर्ज माफी योजना का लाभ ले पाएंगे।