Kisan News 2023: अफीम किसानों ने अपनी मांगों को लेकर नारकोटिक्स विभाग को सौंपा ज्ञापन,यह किसानों ने रखीं मांगे

नीमच उत्पादक संघर्ष समिति के प्रतिनिधियों की सर्वसम्मति से अफीम किसानों ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर केंद्रीय नारकोटिक्स डिप्टी कमिश्नर नीमच व नीमच जिला कलेक्टर को सोंपा ज्ञापन समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरसिंह डागी टिड़वास राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी बंसीलाल धाकड़ राजपुरा समिति के प्रदेश अध्यक्ष मांगीलाल मालवीय खानूखेड़ा कंवरलाल डांगी गरनाई श्याम लाल प्रजापत पिल्लू रामलाल मालवीय बांस खेड़ी, कैलाश चंद धाकड़ बडोली माधव सिंह बाबूलाल धाकड़ बडोली माधव सिंह।

श्रीमान मान्यवर महोदय जी आपके द्वारा सन 2015 से 2022 तक |के|कटे हुए 70000 अफीम लाइसेंस जारी किए हैं उन सभी किसानों की और से आपको बहुत-बहुत धन्यवाद साधुवाद

विषय – भारत सरकार व केंद्रीय नारकोटिक्स विभाग ने जिन अफीम किसानों को सीपीएस पद्धति में अफीम लाइसेंस जारी किए हैं उन किसानों को पंजाबी पुरानी परंपरागत अफीम खेती में सम्मिलित किये जाए सिपीएस | पद्धति को पूर्णता समाप्त की जाए 1997/98 से 20203 तक कटे हुए सभी अफीम लाइसेंस जारी किए जाए।

(1) भारत सरकार केंद्रीय नारकोटिक्स विभाग द्वारा जिन किसानों को सिपिएस|पद्धति द्वारा अफीम लाइसेंस जारी किए हैं उन किसानों को नई अफीम नीति 2023/24 मैं पुरानी परंपरागत अफीम खेती में सम्मिलित किए जाएं सीपीएस पद्धति पूर्णता समाप्त की जाए सीपीएस पद्धति देश व किसान दोनों के हित में नहीं है मारफीन नियम में संशोधन कर मार्फिन 3. 5 रखी जाए क्योंकि मॉफिन प्रकृति के ऊपर निर्भर करता है

(2) 1997 98 से 20203 तक कटे हुए सभी अफीम लाइसेंस आने वाली नहीं अफीम नीति में जारी किए जाए

(3) 1997 से लेकर आज तक घटिया के नाम पर काटे गए अफीम लाइसेंस में| पेलंट्री रिपोर्ट नहीं मिलने के कारण जीन किसानों को वंचित रखा गया है इन सभी अफीम किसानों को अफीम लाइसेंस जारी किए जाएं

(4) अफीम लाइसेंस का रकबा श्रीमान जी आपके द्वारा इस वर्ष सामान्य रूप से आवंटित किया गया है इसी प्रकार आगे भी सामान्य रूप से आवंटित किया जाए जिससे भ्रष्टाचार पर अंकुश लगेगा श्रीमान जी से निवेदन है कि अफीम लाइसेंस नामांतरण प्रक्रिया को आसान किया जाए जो अफीम कृषक चल फिर नहीं सकते उनकी सव इच्छा से यदि अगर वह किसी परिवार के सदस्य के नाम नामांतरण करवाना चाहते हैं इसकी सहमति दी जाए

(5). अफीम के डोडे चूरे को एनडीपीएस एक्ट से हटाकर आपकारी में शामिल किया जाए क्योंकि श्रीमान जी आप भी जानते हैं कि अफीम के डोडे चूरे में मार्फिन 00.2 ही पाई जाती है एनडीपी एक्ट धारा 8 / 29 समाप्त की जाए क्योंकि इसमें कई निर्दोष किसान बेवजह फसाए जाते हैं।

  social whatsapp circle 512WhatsApp Group Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now
Spread the love