गेहूं की कीमतों में तेजी के चलते सरकार ने थोक ग्राहकों के लिए कम किए गेहूं के भाव, अब आएगी गेहूं में गिरावट

Wheat Rate Today: देश में वर्तमान में गेहूं के भाव हुए सभी रिकॉर्ड तोड़ते जा रहे हैं। वर्तमान में गेहूं के भाव 2500 रूपए प्रति क्विंटल से लेकर 3200 रूपए प्रति क्विंटल के स्तर पर व्यापार कर रहे हैं। पिछले 2 महीनों से गेहूं के भाव कम होने का नाम ही नहीं ले रहे हैं जिसके कारण थोक व्यापारियों और सामान्य जनता को कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बढ़ती हुई कीमतों को रोकने के लिए सरकार ने खुले बाजार में 25 लाख टन गेहूं ई नीलामी के तहत थोक ग्राहकों को गेहूं 2350 रु प्रति क्विंटल मूल्य पर करने का फैसला किया।

गेहूं के भाव: बाजार में भारतीय खाद्य निगम (FCI) के स्टॉक को निकालने के बावजूद अभी तक गेहूं के रेट ऊंचे बने हुए हैं। केंद्र सरकार द्वारा गेहूं के भाव कम करने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए ऐसे मे केंद्र सरकार ने भारत भर ई-नीलामी के जरिये थोक ग्राहकों को गेहूं की नीलामी 2350 रुपए प्रति क्विंटल के मूल्य पर करने का फैसला किया है।इसके साथ ही सरकार ने ढुलाई शुल्क को भी हटा दिया है। अब सरकार ने नेफेड, एनसीसीएफ (NCCF) और केंद्रीय भंडार के लिए FCI के गेहूं का रेट पहले 23.50 रु था। अब इसे घटाकर 21.50 रुपए प्रति किलोग्राम कर दिया है।

Wheat Rate Today: इन संस्थानों को पहले गेहूं को आटे में बदलकर 29.50 रुपए प्रति किलोग्राम के अधिकतम खुदरा मूल्य पर बेचने को कहा गया था। लेकिन अब उन्हें यह आटा 27.50 रुपए प्रति किलोग्राम के भाव पर बेचने को कहा गया है।इसका असर यह हुआ कि आज दिल्ली में गेहूं के रेट में 150 रुपए प्रति क्विंटल की गिरावट देखी गई। इस गिरावट के साथ और इसके साथ दिल्ली में मध्य प्रदेश लाइन गेहूं के भाव 2580 रुपए व राजस्थान / उत्तर प्रदेश लाइन के गेहूं के भाव 2600 रुपए प्रति क्विंटल रह गए।

Source by – supermandibhav.com