Dairy Farming subsidy : डेयरी पालन पर ग्राहकों को मिल रही बंपर सब्सिडी, ऐसे उठाएं योजना का लाभ 

dairy farming subsidy 2024: ग्रामीण इलाकों में खेती के साथ-साथ पशुपालन भी आय का बड़ा जरिया बनता जा रहा है। देश में दूध की खपत के अनुपात में दूध का उत्पादन नहीं हो रहा है. बाजार में दूध की मांग को देखते हुए सरकार दूध उत्पादन बढ़ाने की कोशिश कर रही है. सामान्य सीजन की तुलना में त्योहारी सीजन और शादी समारोह आदि के दौरान दूध की मांग काफी बढ़ जाती है। ऐसे में दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए नए डेयरी फार्म खोलने की जरूरत है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा डेयरी फार्म खोलने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है.

खास बात यह है कि सरकार डेयरी फार्म खोलने के लिए लाभार्थियों को 90 फीसदी तक की सब्सिडी दे रही है। अगर आप भी डेयरी फार्म खोलकर अच्छी कमाई करना चाहते हैं, तो आप इस सरकारी योजना के तहत सब्सिडी पर डेयरी फार्म शुरू कर सकते हैं। 

नाबार्ड योजना 2024 पंजीकरण

dairy farming subsidy 2024: डेयरी फार्म व्यवसाय ऋण मुख्य रूप से किसानों, व्यक्तियों, फार्म और व्यवसाय मालिकों द्वारा अपने डेयरी व्यवसाय को वित्तपोषित करने के लिए लिया जाता है। डेयरी व्यवसाय ऋण का उपयोग विभिन्न उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है जैसे कि जानवरों की खरीद, डेयरी उत्पाद, फार्म निर्माण, दूध देने वाली मशीनें, शेड निर्माण, डेयरी आइटम, कृषि उपकरण, चारा काटने की मशीन आदि। अधिकांश बैंक या ऋण संस्थान आसान भुगतान विकल्पों के साथ आकर्षक ब्याज दरों पर डेयरी फार्मों के लिए व्यावसायिक ऋण  प्रदान करते हैं। नाबार्ड बैंक योजना के तहत व्यक्तियों, व्यवसाय मालिकों, किसानों और डेयरी समितियों द्वारा डेयरी फार्म ऋण का लाभ उठाया जा सकता है। 

डेयरी फार्मों के लिए सरकार की क्या योजना है?

dairy farming subsidy 2024: किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा देसी गाय पालन प्रोत्साहन योजना शुरू की गई है। इसके तहत किसान और बेरोजगार युवा अपने क्षेत्र में डेयरी फार्म खोल सकते हैं। इस योजना के तहत सरकार किसानों को सब्सिडी का लाभ प्रदान करेगी ताकि लाभार्थी आसानी से डेयरी फार्म खोल सकें। किसानों के साथ-साथ युवाओं को भी डेयरी खोलने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है ताकि उन्हें गांव में ही रोजगार मिल सके। आपको बता दें कि कई राज्य सरकारें बेरोजगार युवाओं को खेती और पशुपालन का प्रशिक्षण देने के लिए योजनाएं भी चला रही हैं। ऐसे में ग्रामीण युवा और पशुपालक किसान सरकार की इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

डेयरी फार्म लोन लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड

पैन कार्ड

मोबाइल नंबर

बैंक खाता पासबुक

पासपोर्ट साइज फोटो

निवास प्रमाण पत्र

कितने पशुओं की डेयरी खोलने पर मिलेगी सब्सिडी?

राज्य सरकार की देशी गौपालन प्रोत्साहन योजना के तहत लाभार्थी व्यक्ति को 2, 4, 15 और 20 गायों की डेयरी शुरू करने के लिए सब्सिडी दी जाएगी। यह योजना पशु एवं मत्स्य संसाधन विकास द्वारा राज्य के सभी जिलों के लिए लागू की गयी है. इच्छुक व्यक्ति योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं। उन्हें इस योजना के तहत नियमानुसार सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाएगा।

सब्सिडी पर डेयरी फार्म खोलने के लिए आवेदन कैसे करें

डेयरी फार्म लोन के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको राजस्थान सरकार की वेबसाइट gopalan.rajasthan.gov.in खोलनी होगी।

अगर आप सीधे वेबसाइट पर जाना चाहते हैं तो इस लिंक का इस्तेमाल करें

लिंक पर जाने के बाद आपकी स्क्रीन पर कामधेनु डेयरी योजना की वेबसाइट खुल जाएगी,

जिसमें आपको विवरण अनुभाग में सीधे कामधेनु डेयरी योजना के दिशा-निर्देश की पीडीएफ डाउनलोड करने का विकल्प मिलेगा, जिसे आपको चुनना होगा।

पीडीएफ विकल्प चुनने के बाद आपकी स्क्रीन पर फॉर्म खुल जाएगा।

फॉर्म का प्रिंट लेने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी

जैसे आपका नाम, पिता का नाम, आपका पता, बैंक विवरण, जानवरों की संख्या आदि भरनी होगी।

फॉर्म की जांच करने के बाद सभी दस्तावेज और फॉर्म को संलग्न करना होगा

और फिर पशु चिकित्सालय में जाकर जमा करना होगा।

इस तरह आप डेयरी फार्म के लिए लोन अप्लाई कर सकते हैं.