MP Weather: मौसम बना शैतान,एक साथ 2 सिस्टम सक्रिय,इन जिलों में भंयकर बारिश का अलर्ट

अगले 24 घंटे में नर्मदापुरम, हरदा, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है, वही अन्य जिलों में हल्की बारिश होने का अनुमान है।

MP Weather Alert Today : वर्तमान में 2 वेदर सिस्टम सक्रिय है, मध्य प्रदेश के मौसम में एक बार फिर बदलाव आ गया है। मानसूनी गतिविधियों के बढ़ने से फिर से प्रदेश में तेज बारिश का दौर शुरू हो गया है। बंगाल की खाड़ी में नए सिस्टम के बनने से 23-24 सितंबर के बाद प्रदेश के कई जिलों में झमाझम बारिश हो सकती है। अगले 24 घंटे में नर्मदापुरम, हरदा, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है, वही अन्य जिलों में हल्की बारिश होने का अनुमान है।

23-24 को प्रदेश में तेज बारिश के आसार

एमपी मौसम विभाग की मानें तो आज शहडोल, जबलपुर, नर्मदापुरम, इंदौर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी वर्षा भी हो सकती है, शेष संभागों के जिलों में भी गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं। 22-23 सितंबर को बंगाल की खाड़ी में नया स्ट्रॉन्ग सिस्टम एक्टिव होने से भोपाल, ग्वालियर, चंबल, रीवा, इंदौर और उज्जैन संभाग के जिलों में भारी बारिश हो सकती है। ग्वालियर में 22 सितंबर से वर्षा की संभावना है। वही इंदौर में 22 से 24 सितंबर तक एक बार फिर तेज बारिश होने का अनुमान है। 24 सितंबर के बाद जबलपुर सहित संभाग के जिलों में भी अच्छी वर्षा होने की संभावना है।

आज इन जिलों में बारिश का अलर्ट

नर्मदापुरम, हरदा, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा और बैतूल में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।
भोपाल, विदिशा, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, इंदौर, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर, आगर-मालवा, मंदसौर, नीमच, गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, श्योपुरकलां, सिंगरौली, सीधी, रीवा, सतना, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया, डिंडोरी, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, मंडला, बालाघाट, पन्ना, दमोह, सागर, छतरपुर, टीकमगढ़, निवाड़ी में हल्की बारिश के आसार है।

वर्तमान में एक्टिव मौसम प्रणालियां

एमपी मौसम विभाग की मानें तो उत्तर-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी एवं उससे लगे ओडिशा के तट पर बना कम दबाव का क्षेत्र अब दक्षिण-पूर्वी झारखंड के पास पहुंच गया है।वही मानसून द्रोणिका जैसलमेर, उदयपुर, टीकमगढ़, सीधी, रांची, दीघा से होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। झारखंड के पास बना कम दबाव का क्षेत्र बिहार की तरफ बढ़ रहा है। मानसून द्रोणिका भी मप्र से होकर गुजर रही है।

अबतक कहां कितनी हुई बारिश

1 जून से अब तक औसत 35.83 इंच बारिश हो चुकी है, जबकि 36.32 होनी चाहिए थी। प्रदेश में ओवरऑल 1% बारिश ही कम है। पूर्वी हिस्से में 5% कम और पश्चिमी हिस्से में 2% अधिक बारिश हुई है, लेकिन अब भी सतना, अशोकनगर, रीवा और सीधी जिलों में सबसे कम बारिश हुई है। वही भोपाल, गुना, अशोकनगर, दमोह, सतना, रीवा और सीधी जिला अभी भी रेड जोन में है। यहां 23% से 38% तक कम बारिश हुई है।