Fasal Bima Yojana : किसानों की हुई मौज, 35 लाख किसानों के खाते में आएंगे 1700 करोड़ रूपए, देखें अपना नाम 

फसल बीमा योजना 2024 : किसानों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) के तहत 35 लाख किसानों को 1700 करोड़ रुपए का फसल नुकसान का मुआवजा देने की घोषणा की है। यह मुआवजा उन किसानों को मिलेगा जिनकी फसल इस साल जलवायु परिवर्तन के कारण बारिश, ओलावृष्टि, आंधी या अन्य आपदाओं से बर्बाद हुई है। इस योजना का उद्देश्य है कि किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करके उनकी आय में सुधार लाया जाए।

इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप कैसे इस योजना का लाभ ले सकते हैं, कौन-कौन से दस्तावेज आवश्यक हैं, किसान कैसे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और किसान कैसे अपना नाम फसल बीमा लिस्ट में चेक कर सकते हैं।

फसल बीमा योजना क्या है? (What is Crop Insurance Scheme?)

फसल बीमा योजना एक सरकारी योजना है जिसके तहत किसानों की फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान का बीमा किया जाता है। इस योजना का नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) है। इस योजना का शुभारंभ 13 जनवरी 2016 को किया गया था। इस योजना का लक्ष्य है कि किसानों को फसल नुकसान का पूरा या अंशिक मुआवजा दिया जाए। इस योजना में खाद्य फसलें, तेल बीज और बागवानी फसलें शामिल हैं।

इस योजना के अंतर्गत किसानों को बहुत कम प्रीमियम देना होता है। किसानों को खरीफ फसलों के लिए 2 प्रतिशत, रबी फसलों के लिए 1.5 प्रतिशत और बागवानी फसलों के लिए 5 प्रतिशत प्रीमियम देना होता है। बाकी का प्रीमियम सरकार द्वारा दिया जाता है। इस योजना के तहत किसानों को फसल नुकसान का मुआवजा सीधे उनके बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है।

फसल बीमा योजना के लाभ (Benefits of Crop Insurance Scheme)

किसानों को फसल नुकसान का पूरा या अंशिक मुआवजा मिलता है।

किसानों को बहुत कम प्रीमियम देना होता है।

किसानों को आर्थिक सुरक्षा मिलती है।

किसानों को फसल उत्पादन में उत्साह और विश्वास मिलता है।

किसानों को फसल बीमा के लिए किसी भी दफ्तर जाने की जरूरत नहीं होती है।

किसानों को ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा मिलती है।

किसानों को अपना नाम फसल बीमा लिस्ट में चेक करने की सुविधा मिलती है।