MP Weather Update: मध्यप्रदेश के इन जिलों मे हो सकती ओलावृष्टि और बारिश, जानिए

Weather Update Madhya Pradesh

राज्यों के कई जिलों में वर्षा का दौर पहले से जारी हे , अभी बारिश आए हुए ज्यादा समय नहीं हुआ था फिर मध्यप्रदेश के अधिकतर जिलों में वर्षा भी हो सकती है। इस मौसम में वर्षा का सिलसिला रुक-रुक कर तीन चार दिन तक बना रहने का अनुमान दिखाई दे रहा हे ।

Weather Update Madhya Pradesh

भोपाल के आसपास बना पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ गया है। वर्तमान में हवाओं का रुख उत्तरी एवं उत्तर-पूर्वी हो गया है। इस कारण शुक्रवार-शनिवार को रात के तापमान में गिरावट हो सकती है। उधर, शनिवार को एक तीव्र आवृति वाले पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में आने की संभावना है। उसके प्रभाव से प्रदेश में बादल छाने लगेंगे। साथ ही वर्षा भी हो सकती हे।

ग्वालियर एवं चंबल संभाग में

ग्वालियर एवं चंबल संभाग में 1 और 2 जनवरी को जिलों में कहीं-कहीं ओले भी गिर सकते हैं। ग्वालियर, चंबल, सागर संभाग के जिलों में सुबह के समय घना कोहरा बने रहने की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अशफाक हुसैन ने बताया कि पाकिस्तान और उससे लगे उत्तर भारत पर बना पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ गया है। हवा का रुख उत्तरी एवं उत्तर-पूर्वी होने के कारण रात के तापमान में गिरावट होने के आसार हैं। उधर, वातावरण में नमी रहने के कारण ग्वालियर, चंबल, सागर संभाग के जिलों में सुबह के समय घना कोहरा बना रह सकता है।

यह भी पड़े – सरसो के भाव मे आज फिर से आई चमक, देखिये आज के ताजा सरसों का रेट 29 दिसम्बर 2023 के अनुसार

मौसम विज्ञानं के आधार पर

मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्व वरिष्ठ मौसम विज्ञानी ने बताया कि 30 दिसंबर को एक प्रभावी पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में प्रवेश करने के बाद मौसम के मिजाज में बदलाव आने की संभावना है। उसके प्रभाव से बादल छाने के साथ ही प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश भी हो सकती है। मानसून का सिलसिला रुक-रुककर तीन चार दिन तक बना रह सकता है। इस दौरान ग्वालियर, जबलपुर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं ओलावृष्टि की भी आशंका है। मौसम साफ होने के बाद तीन-चार जनवरी से न्यूनतम तापमान में तेजी से गिरावट हो सकती है और फिर कड़ाके की ठंड गिर सकती हे।