किसानों की फसलों को ओलावृष्टि से भारी नुक़सान, आने वाले 5 दिनों का मौसम देखें, यहां हो सकती है बारिश

मौसम ने एक बार फिर से करवट बदल ली है। जयपुर मौसम विभाग (Weather Update) ने बताया कि राजस्थान में आंधी, बारिश के साथ कई इलाकों में ओलावृष्टि की संभावना है। ऐसे में गुरुवार को जयपुर जिले के विराटनगर तहसील के मैड़ और बीलवाड़ी व आंतेला सहित आसपास के इलाके में ओलावृष्टि हुई। राजस्थान में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के चलते से राजधानी जयपुर सहित आसपास की जगहों पर बादल छाए रहे। नया पश्चिमी विक्षोभ अलर्ट जारी होने से मौसम में बारिश, आंधी, ओलावृष्टि के आसार हैं। खेतों में खड़ी फसलें आडी तिरछी पसर गई।

21 मार्च तक रहेगा पश्चिमी विक्षोभ….

जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ (Weather Update) के असर के कारण बारिश के साथ आंधी आने, आकाशीय बिजली चमकने और ओलावृष्टि की भी संभावना जताई है। इससे तापमान में चार डिग्री तक की गिरावट दर्ज हो सकती है। पश्चिमी विक्षोभ का असर 17 से 19 मार्च तक सर्वाधिक रहेगा। इस दौरान 30 से 40 किमी प्रतिघंटा की गति से तेज हवा भी चलेगी।

मध्यप्रदेश में भी कई जिलों में होंगी बारिश

मौसम समाचार: मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए बताया है कि मध्यप्रदेश में बारिश को लेकर एक साथ दो सिस्टम सक्रिय हुए हैं। मौसम सक्रिय होने की वजह से मध्य प्रदेश के कई जिलों में जोरदार बारिश हो सकती है। मध्यप्रदेश में चंबल ग्वालियर, उज्जैन, जबलपुर, सागर और इंदौर संभाग में कहीं-कहीं बारिश रिकॉर्ड की गई है। फिलहाल अन्य संभागों में मौसम शुष्क रिकॉर्ड किया गया। वहीं भोपाल केंद्र के मुताबिक इंदौर, नर्मदा पुरम, रीवा, चंबल और जबलपुर संभाग में बारिश का अलर्ट जारी किया गया। इसके अलावा दतिया, ग्वालियर, शिवपुरी, सीहोर, पन्ना, छतरपुर, देवास में कहीं-कहीं बारिश के साथ ओले गिरने की भी चेतावनी जारी की गई है।