Kisan News: तिलहन फसलों की खेती से किसानों की बढ़ेगी आय,तिलहन फसलों पर सब्सिडी, देखें खबर

Kisan News: भारतीय आहार में सबसे अधिक महत्वपूर्ण भूमिका खाद्य तेल की होती है जो तिलहन की फसलों से निकाला जाता है। वर्तमान में खाद्य तेलों की कीमतों में तेजी देखने को मिल रही है। खाद्य तेलों में तेजी को देखते हुए किसानों का रूझान भी तिलहन फसलों की ओर बढ़ने लगा है। देश में तिलहन फसलों उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा कई प्रकार की योजनाओं का संचालन भी किया जा रहा है। इन योजनाओं के माध्यम से किसानों को दलहन-तिलहन की खेती करने पर आर्थिक सहायता भी दी जा रही है।

Kisan News: तिलहन फसलों की खेती से किसानों की बढ़ेगी आय,तिलहन फसलों पर सब्सिडी, देखें खबर

तिलहन फसलों पर सब्सिडी: इन फसलों की खेती पर दी जाने वाली सहायता राशि किसानों के खातों में ट्रांसफर की जाती है। यही वजह है कि वर्तमान समय में देश के कई हिस्सों में किसान भाई अधिक मुनाफा कमाने के लिए तिलहन फसलों की खेती की तरफ तेजी से बढ़ रहे हैं। देखा जाए तो तिलहन फसलों की मांग बाजार में काफी उच्चे स्तर पर है। क्योंकि तिलहन फसल से केवल तेल ही नहीं अन्य कई तरह के उत्पादों को भी तैयार किया जाता है। तिलहन फसलों के लिए नीचे दिए गए बिंदुओं को जरूर पढ़ें।

यह भी पढ़िए:- इन 13 तरीको से लहसुन की खेती करोगे, तो साल में लाखों कमा सकते हो

• तिलहन फसलों पर सरकार द्वारा सब्सिडी देने को लेकर विचार किया गया है।
• तिलहन फसलों की मांग बाजारों में बढ़ गई है, तिलहन फसलों से केवल तेल ही नहीं बल्कि कई अन्य उत्पादों को भी तैयार किया जाता है।
• अब तिलहन फसलों की खेती से किसानों की आय बढ़ेगी।
• तिलहन की मुख्य फसलों में मूंगफली, सोयाबीन, सरसों,तोरिया, सूरजमुखी,तिल, कुसुम,अलसी,नाइजरसीड्स आदि फसलें शामिल है।
• देश में तिलहन फसलों के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार बीज अनुदान जैसी बहुत सी अन्य प्रकार की योजनाओं का संचालन कर रही है।
• किसानों को दलहन तिलहन की खेती करने पर आर्थिक सहायता दी जा रही है। सरकार द्वारा यह आर्थिक सहायता सीधे किसानों के खातों में ट्रांसफर की जाएगी।

यह भी देखिए:- प्याज की खेती की संपूर्ण जानकारी, देखें खेती कैसे करें, खाद और बीज की किस्में भी देखें
• देश में तिलहन के उत्पादन पर नजर डाली जाए तो सोयाबीन का 1.098 करोड़ टन, सरसों का 0.912 करोड़ टन और मूंगफली का 0.085 करोड़ टन लगभग उत्पादन होता है।
• कृषि जानकारी के अनुसार सरसों 5050 रूपए प्रति क्विंटल,तिल 6-7 हजार रुपए प्रति क्विंटल और मूंगफली का बाजार भाव गुणवत्ता के हिसाब से 60 से 80 रूपए प्रति किलो होता है।

आज के मंदसौर मंडी भाव ( Mandsaur Mandi bhav today )

Leave a Comment