Sukanya Samriddhi Yojana: सरकार द्वारा बेटियों को दिए जा रहे 74 लाख रुपए, जल्द करें आवेदन » Kisan Yojana » India's No.1 Agriculture Blog

Sukanya Samriddhi Yojana: सरकार द्वारा बेटियों को दिए जा रहे 74 लाख रुपए, जल्द करें आवेदन

3.8/5 - (5 votes)

सुकन्या कन्या समृद्धि योजना 2023: केंद्र सरकार द्वारा देश की बेटियों को सुरक्षित और जागरूक करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा देशभर की बेटियों को वित्त सहायता प्रदान की जाती है। केंद्र सरकार द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना पर ब्याज दर को जनवरी-मार्च 2023 तिमाही के लिए अपरिवर्तित रखा गया है। वर्तमान में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा 7.6 फीसदी की दर रिटर्न दिया जा रहा है। सुकन्या समृद्धि योजना केंद्र सरकार द्वारा बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के उद्देश्य से चलाई गई है जिसके तहत दिया जा रहा रिटर्न काफी आकर्षित हैं।

Sukanya samridhi yojana 2023: केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई सुकन्या समृद्धि योजना देश की बालिका के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए उसके माता-पिता की आर्थिक रूप से मदद करती है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 10 वर्ष से कम उम्र की बालिका के नाम पर उसके माता-पिता के जरिए एक खाता खोला जाता है, जिसमें केंद्र सरकार द्वारा बालिका के भविष्य को उज्जवल बनाने एवं सुरक्षित रखने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। जैसे ही सुकन्या समृद्धि योजना में खाता धारक लड़की की उम्र 18 वर्ष हो जाएगी तो लड़की को ही खाता धारक बना दिया जाएगा। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक परिवार में अधिकतम दो लड़कियों का खाता खुलवाया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना 2023: अगर किसी परिवार में तीन जुड़वा लड़कियों का जन्म होता है तो ऐसी स्थिति में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 2 से अधिक लड़कियों का खाता खोला जा सकता है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बालिका का खाता किसी भी बैंक के माध्यम से खोला जा सकता है और अन्य बैंक शाखाओं और डाकघरों में आसानी से ट्रांसफर भी किया जा सकता है। सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश की अवधि 15 वर्ष और परिपक्वता की अवधि 21 वर्ष तय की गई है। इस खाते में एक वित्त वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं।

Sukanya samridhi yojana 2023: सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने वाले खाताधारक अक्टूबर-दिसंबर 2022 तिमाही के दौरान जमा के लिए 7.6 प्रतिशत की ब्याज दर अर्जित करेंगे। अर्जित ब्याज प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में जमा किया जाता है और आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80सी के तहत छूट के लिए पात्र है। जमा राशि भी उसी धारा के तहत छूट प्राप्त है।

  social whatsapp circle 512WhatsApp Group Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *