कृषि यंत्र अनुदान योजना: पॉवर स्प्रे पंप और कृषि यंत्रों पर मिल रही बंपर सब्सिडी, ऐसे करें आवेदन

सरकार की ओर से कृषि यंत्र अनुदान योजना (Agricultural Machinery Subsidy Scheme) चलाई जा रही है। इसके तहत किसानों को कृषि यंत्रों की खरीद पर सब्सिडी  (subsidy) का लाभ प्रदान किया जाता है। इसी क्रम में किसानों को सब्सिडी पर पावर स्प्रे पंप सेट उपलब्ध कराया जाएगा। ताकि किसान अपनी फसल पर कीटनाशक का छिड़काव करके उसे कीट व रोगों से सुरक्षित रख सकें। किसान इस योजना के तहत पावर स्प्रे पंप सेट बहुत ही सस्ती कीमत पर खरीद सकते हैं। इस पावर स्प्रे पंप सेट पर भारी सब्सिडी (subsidy) दी जा रही है। वहीं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन दलहन के तहत पावर नैप सैक स्प्रेयर (Power Knap Sack Sprayer) व मैनुअल स्प्रेयर (manual sprayer) पर भी सब्सिडी (subsidy) का लाभ प्रदान किया जा रहा है। किसान इस योजना के तहत पावर स्प्रे पंप सेट जिसमें पावर नैप सैक स्प्रेयर व मैनुअल स्प्रेयर पर सब्सिडी का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन (Online Application) कर सकते हैं।

ट्रैक्टर जंक्शन के माध्यम से आज हम, आपको पावर स्प्रे पंप सेट, पावर नैप सैक स्प्रेयर व मैनुअल स्प्रेयर का क्या उपयोग है, इस पर कितनी सब्सिडी (subsidy) मिलेगी, इसके लिए कैसे आवेदन करना होगा आदि बातों की जानकारी दे रहे हैं।

क्या है पावर स्प्रे पंप और किस काम आता है

स्प्रेयर पंप बिजली व बैटरी दोनों से चलने वाला एक महत्वपूर्ण उपकरण है। इसकी सहायता से फसल पर पानी, उर्वरक व कीटनाशक का छिड़काव किया जा सकता है। इस उपकरण की सहायता से किसान कम समय में अधिक क्षेत्र में कीटनाशक का छिड़काव कर सकता है। स्प्रेयर कई प्रकार के आते हैं। इसमें पावर नैप सैक स्प्रेयर व मैनुअल स्प्रेयर, पावर स्प्रेयर पंप आदि शामिल हैं।

पावर स्प्रे पंप सेट के लिए कितनी मिलेगी सब्सिडी (subsidy)

फसल विविधिकरण योजना के तहत पावर स्प्रे पंप सेट की खरीद पर 50 प्रतिशत सब्सिडी (subsidy) दी जाती है। शेष पैसा ही किसान को देना होता है। भौतिक सत्यापन के बाद प्रोत्साहन रााशि डीबीटी के माध्यम से किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर कर दी जाती है।

किस योजना के तहत मिल रही है पावर स्प्रे पंप सेट पर सब्सिडी

राज्य सरकार ने 2023-24 के दौरान आरकेवीवाई के तहत राज्य में मूल हरित क्रांति में फसल विविधिकरण कार्यक्रम शुरू किया है। इस योजना के जरिये हरियाणा सरकार राज्य में गिरते भूजल स्तर के संरक्षण का काम कर रही है। इसके तहत किसानों को धान के बदले दलहनी या तिलहनी फसल की खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके लिए सरकार की ओर से अनुदान राशि भी दी जा रही है और पावर स्प्रे पंप सेट भी दिया जा रहा है।

किन जिलों के किसान ले सकते हैं इस योजना का लाभ
फसल विधिधीकरण योजना हरियाणा के जिन जिलों के लिए लागू की गई है, उनमें अंबाला, फतेहाबाद, हिसार, जिंद, करनाल, कैथल, कुरूक्षेत्र, पानीपत, रोहतक, सोनीपत, सिरसा और यमुनानगर जैसे अधिक पानी की कमी वाले जिलों के लिए लागू की गई है। इस योजना के तहत धान की फसल की जगह अन्य फसल दलहनी व तिलहनी फसल की खेती करने के लिए प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

पावर स्प्रेयर पंप के लिए आवेदन हेतु किन दस्तावेजों  (documents) की होगी आवश्यकता

आवेदन करने वाले वाले किसान का आधार कार्ड
आवेदन करने वाले किसान का मूल निवास प्रमाण पत्र
आवेदक किसान का मोबाइल नंबर जो आधार से लिंक हो
आवेदक का बैंक खाता विवरण जिसमें बैंक पासबुक की कॉपी
किसान का जाति प्रमाण पत्र (अनुसूचित जाति व जनजाति के लिए)

पावर स्प्रेयर पंप के लिए कैसे करें आवेदन

विभागीय बेवसाइट पर दी गई सूचना के मुताबिक पावर नैप सैक स्प्रेयर व मैनुअल स्प्रेयर के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 15 सितंबर 2023 है। इच्छुक किसान इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट www.agriharyana.gov.in जाकर अपना पंजीकरण व आवेदन कर सकते हैं। इस योजना के संबंध में अधिक जानकारी के लिए आप कृषि विभाग हरियाणा की वेबसाइट http://agriharyana.org/agrischemes पर विजिट कर सकते हैं।