राशनकार्ड योजना 2023: केंद्र सरकार का भारतीय नागरिकों को बड़ा तोहफा, सुनकर खुशी से झूम उठेंगे करोड़ों लाभार्थी 

Free Ration Scheme: अगर आपके पास राशन कार्ड है और आप केंद्र की तरफ से संचाल‍ित मुफ्त राशन योजना के लाभार्थी हैं तो यह खबर काम की है. जी हां, फ्री राशन योजना के लाभार्थ‍ियों के ल‍िए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्‍तीसगढ़ की रैली के दौरान बड़ा ऐलान क‍िया. पीएम मोदी ने रैली में कहा क‍ि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार अगले पांच सालों के ल‍िए 80 करोड़ गरीबों के लिए मुफ्त राशन योजना का विस्तार करेगी. सरकारी अधिकारियों के अनुसार सरकार के इस कदम पर करीब 2 लाख करोड़ रुपये का खर्च होगा।

मौजूदा समय में नेशनल फूड स‍िक्‍योर‍िटी एक्‍ट (NFSA) के तहत लाभार्थ‍ियों को अनाज 1-3 रुपये किलो की दर पर मुहैया होता है. इस योजना के तहत गरीब परिवारों को हर महीने प्रति व्यक्ति के ह‍िसाब से 5 किलो अनाज द‍िया जाता है. अन्‍तोदय अन्‍न योजना (AAY) वाले पर‍िवारों को हर महीने 35 किलो अनाज उपलब्‍ध कराया जाता है. पीएम ने यह ऐलान 31 दिसंबर, 2023 को पीएमजीकेएवाई की टाइम लाइन पूरी होने से पहले क‍िया है।

पीएमजीकेएवाई (PMGKAY) को 2020 में कोविड महामारी के दौरान पेश किया गया था. इसके तहत सरकार एनएफएसए कोटे के तहत व्यक्तियों को 5 किलो अनाज मुफ्त देती है. केंद्र ने पीएमजीकेएवाई और एनएफएसए योजना को साथ म‍िला द‍िया है।

सरकारी अधिकारियों की तरफ से कैबिनेट के फैसले को ‘देश के वंचितों के लिए नए साल का उपहार’ बताया है. इसमें कहा गया क‍ि 81.35 करोड़ से ज्‍यादा लोगों को एनएफएसए के तहत अनाज म‍िलेगा. उन्होंने कहा कि लाभार्थियों को अनाज के ल‍िए क‍िसी प्रकार का भुगतान भी करने की जरूरत नहीं होगी।

केंद्र की तरफ से लाई 2013 में एनएफएसए की शुरुआत की गई थी. इसके तहत सभी 36 राज्‍यों और केंद्र शास‍ित प्रदेश को कवर क‍िया जाता है. हाल ही में खाद्य मंत्री, पीयूष गोयल ने संसद में कहा था क‍ि पीएमजीकेएवाई के तहत, सरकार ने राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को करीब 1,118 लाख टन खाद्यान्‍न आवंटित किया है।

उन्होंने यह भी बताया क‍ि पहले से सातवें तक, सभी चरणों के लिए खाद्य सब्सिडी और केंद्रीय सहायता के लिए कुल स्वीकृत बजट करीब 3.91 लाख करोड़ रुपये है।

  social whatsapp circle 512WhatsApp Group Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now
Spread the love