राशन कार्ड के नियमों में भारी बदलाव: अब निशुल्क गेहूं मिलना होंगा बंद, मिलेंगे यह 5 बड़े फायदे

राशन कार्ड एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज हैं जिसके तहत सरकार देश के गरीबो को फ्री राशन (Free Ration) योजना के तहत चावल, गेहू, दाल, चीनी, तेल, चन्ना एवं अन्य जरुरी सभी चीजे लोगों को फ्री में दिया जाता हैं। फ्री राशन योजना के तहत सरकार लोगों को फ्री में यह सभी चीजे पिछले कई सालो से दें रही हैं। यह फ्री राशन वाला सुविधा देश के गरीब मजदुर लोगों को दिया जाता।सरकार फ्री राशन का लाभ जो लोगों को दे रही थी उसे एक बार 1 साल के आगें बढ़ा दिया हैं और अब लोगों को जैसे पहले फ्री में राशन के सभी सामग्री मिलते आरहें हैं वैसे ही उन्हें फ्री राशन का लाभ पुरे 1 साल तक मिलते रहेंगे। लेकिन फ्री राशन को लेकर एक बुरी अपडेट भी जिसके बारें में सभी राशन कार्ड धारको को जरुर जानना चाहिए।

Free Raton Card New Rule

वैसे तो सरकार देश के लोगों के लिए कई सारी योजानाएं चालती हैं। उनमे से एक फ्री राशन (Free Ration) योजना भी बहुत ख़ास हैं सभी लोगों के लिए इस योजना के तहत सरकार लोगों को बहुत हद तक लाभ पहुचाती हैं और फ्री में राशन देती हैं। लेकिन फ्री राशन को लेकर सोशल मीडिया पर एक खबर काफी ज्यादा वायरल हो रहा हैं | इस वायरल खबर में यह बताया जा रहा हैं की सरकार में फ्री में राशन में अब गेहूं बंद कर दिया हैं। इस खबर को सुनकर देश के बहुत से राशन कार्ड धारक (Ration Card) भाई-बहन दुखी होंगे। लेकिन असलियत क्या हैं पहले जानें।

बता दें की सोशल मीडिया में वायरल हो रहे खबर में बताया जा रहा है की 1 माई के बाद राशन कार्ड पर गेहूं उपलब्ध नही करवाया जायेगा और राशन कार्ड पर गेहूं मिलना सभी लोगों को बंद हो जायेगा। यह खबर सरकार के हवालें जारी आदेश देते हुए वायरल हो रहा हैं। लेकिन आपको बता दें की यह खबर पूरी तरह से फेक हैं और इस तरह की झूठी खबरों पर आप सब विस्वास तबतक नही करें जबतक कोई अधिकारिक नोटिस जारी नही होता हैं।

Ration Card New Rule

यदि आप सभी राशन कार्ड धारक हैं, तो इससे आप सभी अच्छी तरह परिचित होंगे की राशन कार्ड पर पिछले कुछ महीनों से गेहूं कम दिए जा रहे हैं और चावल ज्यादा दिए जा रहे हैं। यह बात बिल्कुल सत्य हैं की राशन में अब चावल देने की मात्रा बढ़ा दी गई हैं और गेहूं को कम कर दिया गया हैं। लेकिन इसका यह मतबल बिल्कुल यह नही हैं की राशन कार्ड पर अब गेहूं मिलने बंद हो चुके हैं।