मौसम समाचार: मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में इन जिलों में दी भारी बारिश की चेतावनी, फसलों को पहुच सकता है नुकसान

मध्यप्रदेश में मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल गया है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को चेतावनी दी है कि अगले 24 घंटे में प्रदेश के दर्जनों जिलों में फिर बारिश हो सकती है। इसके साथ ही कुछ जिलों में गरज-चमक के साथ आकाशीय बिजली गिरने और तेज हवाएं चलने की चेतावनी भी दी है। प्रदेश के कई जिलों में आज भी बारिश हुई है।

करीब एक सप्ताह पहले तक प्रदेश के कई जिलों में 4 से 5 दिनों तक मौसम बिगड़ा रहा था। उस दौरान विभिन्न स्थानों पर बेमौसम बारिश के साथ ही ओलावृष्टि भी हुई थी। उससे किसानों की फसल तबाह हो गई थी और उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ा था। उस नुकसान की अभी भरपाई भी नहीं हुई है। वहीं दूसरी ओर किसानों की पकी हुई फसल कटकर घर या गोदाम में पहुंची भी नहीं है। इस बीच एक बार फिर प्रदेश में मौसम खराब हो गया है।

मौसम केन्द्र भोपाल ने शुक्रवार को जारी बुलेटिन में फिर से प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश होने का अलर्ट दिया है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के शहडोल संभाग (के जिलों अनूपपुर, शहडोल, उमरिया), जबलपुर संभाग (के जिलों जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, सिवनी, छिंदवाड़ा, मंडला, डिंडोरी) और रीवा संभाग (के जिलों रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली) में कुछ स्थानों पर वर्षा या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ सकती है।

इसी तरह भोपाल संभाग (के जिलों भोपाल, रायसेन, राजगढ़, सीहोर तथा विदिशा), नर्मदापुरम संभाग (के जिलों नर्मदापुरम, बैतूल, हरदा), सागर संभाग (के जिलों सागर, छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़, पन्ना, निवारी), चंबल संभाग (के जिलों श्योपुर, मुरैना, भिंड) और ग्वालियर संभाग (के जिलों ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, दतिया, अशोकनगर) में तथा खंडवा, खरगौन, बडवानी, बुरहानपुर, नीमच एवं मंदसौर जिलों मेंहीं-कहीं वर्षा या गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती है।

यहां बिजली गिरने की चेतावनी

इसके अलावा मौसम विभाग ने प्रदेश के 3 संभागों के जिलों में आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी भी दी है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के शहडोल शहडोल संभाग (के जिलों अनूपपुर, शहडोल, उमरिया), जबलपुर संभाग (के जिलों जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, सिवनी, छिंदवाड़ा, मंडला, डिंडोरी) और रीवा संभाग (के जिलों रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली) में कुछ स्थानों पर गरज के साथ वज्रपात हो सकता है तथा 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवा चल सकती है।

वज्रपात का यहां भी है खतरा IMD Alert

उपरोक्त जिलों के अलावा नर्मदापुरम संभाग (के जिलों नर्मदापुरम, बैतूल, हरदा), सागर संभाग (के जिलों सागर, छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़, पन्ना, निवारी), चंबल संभाग (के जिलों श्योपुर, मुरैना, भिंड) और ग्वालियर संभाग (के जिलों ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, दतिया, अशोकनगर) के अलावा खंडवा, रायसेन, विदिशा, सीहोर, बुरहानपुर, नीमच एवं मंदसौर जिलों में भी वज्रपात की चेतावनी दी गई है। इन जिलों में कहीं-कहीं गरज के साथ वज्रपात हो सकता है। इसके साथ ही 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवा चल सकती है।

इन स्थानों पर दर्ज की गई वर्षा

एक दिन पहले भी प्रदेश के कई स्थानों पर बारिश दर्ज की गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के नर्मदापुरम, शहडोल, चंबल, सागर, ग्वालियर, रीवा संभागों के जिलों में कुछ स्थानों पर एवं जबलपुर उज्जैन संभागों के जिलों में कहीं-कहीं वर्षा दर्ज की गई है। इसके अलावा भोपाल, इंदौर संभागों के जिलों में मौसम शुष्क रहा। प्रदेश के पुष्पराजगढ़ में 2 सेंटीमीटर, कोतमा, अनूपपुर, नारायनगंज, जैतहरी और बुढार में 1-1 सेंटीमीटर बरिश दर्ज की गई है।