मौसम अलर्ट: IMD ने दी इन राज्यों में दी तेज बारिश और आंधी तूफान की चेतावनी, देखिए कहां होंगी बारिश

3 Min Read
खबर शेयर करें

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत में बीते दिनों बारिश होने से गेंहू की फसल को भारी नुकसान हुआ। कई इलाकों में सरसों और गेंहू की फसल चौपट होने से किसानों को तगड़ा नुकसान हुआ है। पश्चिमी यूपी और हरियाणा में अब तापमान में काफी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है, जिससे लोगों को कड़ी धूप का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा दक्षिण भारत के कई हिस्सों में बारिश होने से मौसम खुशनुमा हो गया, जिसके बाद अब तापमान में मामूली इजाफा दर्ज किया जा रहा है। साथ ही पूर्वोत्तर राज्यों में घने बादल छाए रहने से तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। इस बीच बीच भारतीय मौसम विभाग(आईएमडी) ने देश कई राज्यों में बारिश की चेतावनी जारी कर दी है।

आईएमडी के अनुसार, उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क बना रहने की संभावना जताई है। इसके साथ ही मौसम अगले सप्ताह तक बना रहने की संभावना है। पूरे इलाके में हर दिन का तापमान सामान्य से कम बने रहने की संभावना बनी हुई है। इसके साथ ही राजस्थान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिम उत्तर प्रदेश में तापमान 30 से कम बने रहने की संभावना जताई गई है। अगले सप्ताह तक पारा 3 से 4 डिग्री बढ़ने की संभावना जताई गई है। इसके सात ही यहां चिलचिलाती गर्मा का सामना करना पड़ सकता है।

इन हिस्सों में होगी गरज के साथ तेज बारिश

आईएमडी के मुताबिक, महाराष्ट्र के कई हिस्सों में आने वाले दिनों में गरज के साथ तेज बारिश होने की चेतावनी जारी कर दी गई है। इसके साथ ही मध्य महाराष्ट्र, विशेष रूप से सांगली, सतारा, पुणे, कोल्हापुर, शोलापुर आदि सहित दक्षिणी भागों में वर्षा की गतिविधि बढ़ने की उम्मीद जताई गई है।

इन हिस्सों में 7, 8 और 9 अप्रैल को बारिश देखने को मिल सकती हैं। 7 और 8 अप्रैल को बारिश अधिक होने की उम्मीद है। साथ ही केरल राज्य में मार्च में ही प्री मनसून बारिश का असर देखने को मिल सकता है।इस बार प्री मॉनसून की बारिश क्षेत्र से थोड़ी दूर रही और भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी गई है। एक बार फइरमौसम रंग बदलने के लिए पूरी तरह से तैयार है, क्योंकि 6 और 7 अप्रैल को केरल में मध्यम बारिश देखने को मिल सकती है।


खबर शेयर करें
Share This Article
By Harry
Follow:
नमस्ते! मेरा नाम "हरीश पाटीदार" है और मैं पाँच साल से खेती बाड़ी से जुड़ी हर प्रकार की जानकारी, अनुभव और ज्ञान मैं अपने लेखों के माध्यम से लोगों तक पहुँचाता हूँ। मैं विशेष रूप से प्राकृतिक फसलों की उचित देखभाल, जलवायु परिवर्तन के प्रभाव का सामना, और उचित उपयोगी तकनीकों पर आधारित लेख लिखने में विशेषज्ञ हूँ।