MSP 2023: देखें रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि क्या है, गेहूं की MSP 2125 रूपए प्रति क्विंटल » Kisan Yojana » India's No.1 Agriculture Blog

MSP 2023: देखें रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि क्या है, गेहूं की MSP 2125 रूपए प्रति क्विंटल

Rate this post

Minimum support price 2023: भारत सरकार ने कृषि लागत और मूल्य आयोग (CACP) की सिफारिश के आधार पर रबी विपणन सीजन 2023-24 के लिए 6 प्रमुख रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) में वृद्धि की है। सरकार ने समर्थन मूल्य की घोषणा करने से पहले राज्य सरकारों और विभिन्न केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों के सुझावों पर भी विचार किया था। केंद्र सरकार द्वारा रबी फसलों के समर्थन मूल्य ख़र्च का लगभग 50% या उससे अधिक होता है।

न्यूनतम समर्थन मूल्य 2023: केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2023 में सभी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में गेहूं का MSP अब 2125 ₹ प्रति क्विंटल है, जौ 1735₹ प्रति क्विंटल, चना 5335₹ प्रति क्विंटल, मसूर 6000 ₹ प्रति क्विंटल, तोरिया और सरसों 5450₹ प्रति क्विंटल और कुसुम 5650₹ प्रति क्विंटल। पिछले तीन वर्षों और चालू वर्ष के लिए 6 प्रमुख रबी फसलों के एमएसपी में वृद्धि का विवरण नीचे चार्ट में दी गई है।

क्र.सं.फसल2019-20 (एमएसपी ₹ प्रति क्विंटल में)2020-21 (एमएसपी ₹ प्रति क्विंटल में)2021-22 (एमएसपी ₹ प्रति क्विंटल में)2022-23 (एमएसपी ₹ प्रति क्विंटल में)2020-21 (₹ में वृद्धि)2021-22 (₹ में वृद्धि)2022-23 (₹ में वृद्धि)
1गेहूं19251975201521255040110
2जौ15251600163517357535100
3चना4875510052305335225130105
4मसूर4800510055006000300400500
5रेपसीड और सरसों4425465050505450225400400
6कुसुम5215532754415650112114209
न्यूनतम समर्थन मूल्य 2023 फसलों की सूची

Minimum support price 2023: देश ने कृषि और संबद्ध वस्तुओं के निर्यात में जबरदस्त वृद्धि देखी है। वर्ष 2015-16 की तुलना में, कृषि और उससे जुड़ें उत्पादों का निर्यात 2015-16 में 32.81 बिलियन अमरीकी डालर से बढ़कर 2021-22 में 50.24 बिलियन अमरीकी डालर हो गया है, याने 53.1% की वृद्धि हुई है।

  social whatsapp circle 512WhatsApp Group Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *