Kisan News:एक क्लिक के माध्यम से किसानों के खाते में पहुंची फसल नुकसान की राशि, ऐसे चेक करें पेमेंट स्टेटस

इस वर्ष देश में रबी सीजन में गेहूं, चना, सरसों सहित अन्य रबी फसलों को बेमौसम बारिश एवं ओला वृष्टि से काफी नुकसान हुआ है, जिसकी भरपाई किसानों को फसल बीमा योजना एवं राज्य योजनाओं के तहत की जा रही है।इस कड़ी में मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में किसानों को हुए इस नुकसान की भरपाई के लिए राहत राशि देना शुरू कर दिया है।

फसल नुकसान का मुआवजा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में इस बार तीन दौर में ओला-वृष्टि और असामयिक वर्षा से फसलें खराब हुई थी।सरकार ने फसलों का सर्वे करा कर राहत राशि वितरण करने का निर्णय लिया है।संकट की घड़ी में सरकार किसानों के साथ खड़ी है। किसानों को संकट से पार ले जाने में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी।

किसानों को दी गई 159 करोड़ रुपए की राहत राशि

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश एकमात्र ऐसा राज्य है, जहाँ फसलों का नुकसान होने पर किसानों को सबसे अधिक राहत राशि प्रदान की जाती है।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 28 अप्रैल के दिन अपने निवास कार्यालय समत्व भवन से असामयिक वर्षा एवं ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को राहत राशि का वितरण किया।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 159 करोड़ 52 लाख रुपए की राहत राशि का वितरण सिंगल क्लिक से किया।

साथ ही दिया जाएगा फसल बीमा योजना का लाभ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जहाँ भी फसलों का नुकसान हुआ है, वहाँ का सर्वे कर राहत राशि प्रदान की जाएगी।फसल कटाई प्रयोग के आधार पर फसल बीमा योजना का लाभ भी किसानों को दिलाया जाएगा।राजस्व, कृषि और पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारियों ने सर्वे कार्य किया है।सर्वे कार्य ठीक से कराने का पूरा ध्यान रखा गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राहत राशि का पैसा आपके खाते में आ जाएगा, इसके लिए मैं आपको बहुत-बहुत बधाई देता हूँ।

प्रभावित किसानों से नहीं की जाएगी कर्ज की वसूली

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रभावित किसानों से कर्ज वसूली स्थगित कर दी है।प्रभावित किसानों के घर बेटी की शादी होने पर 55 हजार रुपए की मदद अलग से की जाएगी।भरपूर राहत राशि प्रदान करने में कोई कमी नहीं छोड़ेंगे। गेहूँ की समर्थन मूल्य पर खरीदी चल रही है।हमने फैसला किया है कि बारिश के कारण गेहूँ की चमक चली गई है, तो चमकविहीन गेहूँ भी खरीदा जाएगा।

फसलों के सर्वे से किसान हैं पूरी तरह संतुष्ट

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विदिशा जिले के किसान श्री रामबाबू, सागर जिले के श्री प्राण सिंह, शिवपुरी की सविता यादव और मंदसौर के श्री दयाल सिंह से संवाद किया।उन्होंने किसानों से पूछा कि आपकी फसलों का सर्वे ठीक ढंग से हुआ था कि नहीं, आप संतुष्ट है या नहीं।सभी किसानों ने कहा कि फसलों का सर्वे बहुत अच्छे से हुआ, कोई परेशानी नहीं हुई, हम पूरी तरह से संतुष्ट हैं।