बजट 2023 में किसानों के लिए बड़ी घोषणाएं, गोवंश आयोग की होगी स्थापना, किसानों को सालाना 6 हजार मिलेंगे

महाराष्ट्र में शिंदे सरकार ने गुरुवार को विधानसभा में बजट 2023-2024 पेश किया। यह बजट वित्त मंत्री देवेंद्र फडणवीस की तरफ से पेश किया गया। इस दौरान फडणवीस ने गोवंश आयोग की स्थापना करने की घोषणा की। इसके तहत अधिक से अधिक देशी गोवंश पैदा करने के लिए रिसर्च की जाएगी। अहमदनगर में एक नया वेटरनरी मेडिकल कॉलेज भी खोला जाएगा।

केंद्र सरकार के किसान सम्मान निधि योजना की तरह ही अब राज्य में किसानों को सालाना 6 हजार रुपए दिए जाएंगे। राज्य में किसान अब सिर्फ एक रुपए में पीएम फसल बीमा योजना का रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे।

बजट में सरकार की 5 बड़ी घोषणाएं

  1. राज्य में 14 सरकारी मेडिकल कॉलेज बनाए जाएंगे
    सरकार ने घोषणा की है कि राज्य में 14 मेडिकल कॉलेज बनाए जाएंगे। यह कॉलेज अमरावती, भंडारा, जलगांव, रत्नागिरी, सतारा, अलीबाग, सिंधुदुर्ग, धाराशिव, परभणी, गढ़चिरौली, वर्धा, बुलढाणा, पालघर, अंबरनाथ (ठाणे) में खोले जाएंगे। इसके अलावा शिंदे सरकार ने नए नशामुक्ति केंद्र खोलने की भी बात कही है।
  2. महाराष्ट्र में 1000 बायो-इनपुट संसाधन केंद्र स्थापित किए जाएंगे
    राज्य में प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा। 25 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में जैविक खेती के तहत फसल उगाई जाएगी। इसके अलावा 1000 बायो-इनपुट संसाधन केंद्र स्थापित खोले जाएंगे। सिर्फ 1 रुपए में PM फसल बीमा योजना का रजिस्ट्रेशन होगा। राज्य के किसान अब सिर्फ एक रुपए में PM फसल बीमा योजना के तहत रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। इसके अलावा छत्रपति शिवाजी महाराज शेतकरी सन्मान योजना 2017 के शेष पात्र किसानों को योजना का लाभ दिया जाएगा।
  3. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सैलरी बढ़ाई गई
    आशा स्वयंसेवकों की सैलरी 3500 रुपए से बढ़ाकर 5000 रुपए कर दिया गया है। आंगनबाड़ी सेविकाओं का वेतन 8325 रुपए से बढ़ाकर 10 हजार रुपए किया गया है । आंगनबाड़ी सहायिकाओं की सैलरी 4425 रुपए से बढ़ाकर 5500 रुपए कर दिया गया है। इसके अलावा आंगनबाड़ी, मिनी आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका के 20 हजार पद भरे जाएंगे।
  4. शिवाजी के किलों के रखरखाव के लिए 350 करोड़ दिए जाएंगे
    शिंदे सरकार ने छत्रपति शिवाजी महाराज के संबंध में बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में शिवाजी महाराज से जुड़े किलों की रखरखाव के लिए 350 करोड़ रुपए दिए जाएंगे।