Dhan MSP Bonus : किसानों को धान ब्रिकी पर मिल रहा 317 रूपए प्रति क्विंटल का बोनस, खाते में आएंगे इतने रूपए 

5 Min Read
खबर शेयर करें

धान बेचने वाले किसानों को मंगलवार को साय सरकार पहला बोनस देगी। हर किसान के खाते में पिछली बार से इस बार प्रति क्विंटल 317 रुपए ज्यादा आएंगे। दरअसल, भाजपा सरकार समर्थन मूल्य पर 917 रुपए प्रति क्विंटल के दर से अंतर की राशि दे रही है, जबकि इससे पहले किसानों 600 रुपए प्रति क्विंटल के दर से अंतर की राशि दी जा रही थी। इस तरह खरीफ 2023-24 में धान बेचने वाले 24 लाख 75 हजार किसानों के खाते में अंतर की राशि के रूप में साय सरकार 13 हजार 320 करोड़ रुपए ट्रांसफर कर देगी। बता दें कि 24.75 लाख किसानों से समर्थन मूल्य पर 144.92 लाख टन धान की खरीदी की गई है। इसके लिए किसानों को 31 हजार 914 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। अंतर की राशि मिलते ही इस साल किसानों की जेब में 44 हजार करोड़ रुपए पहुंच जाएंगे। साथ ही छत्तीसगढ़ किसानों को धान का सर्वाधिक मूल्य देने वाला देश का इकलौता राज्य हो जाएगा।

भूपेश बघेल, ताम्रध्वज साहू और दीपक बैज के खाते में भी पैसे जाएंगे : शिवरतन

किसानों को अंतर की राशि देने की जानकारी देते हुए भाजपा के चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक शिवरतन शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार ने वादा किया था 3100 रुपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदेंगे। नई सरकार ने 2183 की दर से किसानों से धान लिया अब बचे हुए 917 रुपए 12 मार्च को जारी किए जाएंगे। शिवरतन ने कहा कि भाजपा या कांग्रेस देखकर पैसे नहीं दिए जा रहे हैं, जो किसान है उसे रकम मिलेगी। भूपेश बघेल किसान हैं उनके भी खाते में पैसे जाएंगे। इसके अलावा पूर्व गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और दीपक बैज के खाते में भी पैसे जाएंगे। उन्होंने कहा कि महज 90 दिन के अंदर मोदी की गारंटी की चार प्रमुख योजनाएं हम पूरी कर रहे हैं। प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में राजस्व मंत्री टंकराम वर्मा और मीडिया सह प्रभारी अनुराग अग्रवाल भी उपस्थित रहे।

केंद्रीय मंत्री जारी करेंगे राशि

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव व मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय की मौजूदगी में केंद्रीय कृषि मंत्री अर्जुन मुंडा किसानों को अंतर की राशि जारी करेंगे। बालोद में मुख्य कार्यक्रम के अलावा प सभी जिला मुख्यालयों और ब्लॉक मुख्यालयों में भी यह कार्यक्रम होगा। इस अवसर पर अरूण साव, विजय शर्मा, रामविचार नेताम, दयालदास बघेल आदि मौजूद रहेंगे।

3716 करोड़ पहले ही दे चुके

साय सरकार ने किसानों से किए गए वादे के अनुसार दो साल के धान के बकाया बोनस के रूप में 3716 करोड़ रुपए का भुगतान पहले ही कर चुकी है। बता दें कि साय सरकार ने कृषि के बजट में 33 प्रतिशत की वृद्धि की है। अंतर की राशि मिलते ही इस साल किसानों की जेब में होंगे 44 हजार करोड़ रुपए

विधानसभा चुनाव के समय किसानों से यह था वादा

{भाजपा का वादा : 31 सौ रुपए प्रति क्विटंल, प्रति एकड़ 21 क्विंटल धान खरीदी।

कांग्रेस का वादा : 32 सौ रुपए प्रति क्विंटल, प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान खरीदी।

12 लाख तेंदूपत्ता संग्राहकों को 55 सौ रुपए की दर से सीएम देंगे अंतर की राशि

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष शिवरतन शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार ने तेंदूपत्ता संग्रहण के दर में वृद्धि करते हुए इसे 55 सौ रुपए कर दिया है। मंगलवार को कोंडागांव में आयोजित संभाग स्तरीय सम्मेलन में तेंदूपत्ता संग्रह करने वालों को 55 सौ रुपए के हिसाब से उसके अंतर की राशि जारी की जाएगी। साढ़े 12 लाख तेंदूपत्ता संग्राहकों को इसका लाभ मिलेगा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय, मंत्री केदार कश्यप और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंहदेव उपस्थित रहेंगे।

किसानों को अंतर की राशि देने सरकार ने ऐसे की व्यवस्था

{पिछले साल के अनुपूरक बजट में 3 हजार करोड़ रुपए रखा। {इस साल के बजट में 10 हजार करोड़ का प्रावधान। इस प्रकार कुल 13 हजार करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई।

Wheat Rates : गेहूं की कीमतों में आई तूफानी तेजी, पहुंचे 3000 रूपए प्रति क्विंटल पार, जानिए पूरी जानकारी 

बकरी पालन योजना 2024 : केंद्र सरकार बकरी पालन के लिए दें रहीं 2.45 लाख रुपए, ऐसे उठाएं योजना का लाभ 


खबर शेयर करें
Share This Article
By Harry
Follow:
नमस्ते! मेरा नाम "हरीश पाटीदार" है और मैं पाँच साल से खेती बाड़ी से जुड़ी हर प्रकार की जानकारी, अनुभव और ज्ञान मैं अपने लेखों के माध्यम से लोगों तक पहुँचाता हूँ। मैं विशेष रूप से प्राकृतिक फसलों की उचित देखभाल, जलवायु परिवर्तन के प्रभाव का सामना, और उचित उपयोगी तकनीकों पर आधारित लेख लिखने में विशेषज्ञ हूँ।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *