Black Tomato Farming: एक एकड़ में काले टमाटर से करें लाखों का मुनाफा, इतनी होंगी कमाई » Kisan Yojana » India's No.1 Agriculture Blog

Black Tomato Farming: एक एकड़ में काले टमाटर से करें लाखों का मुनाफा, इतनी होंगी कमाई

5/5 - (2 votes)

Black tomato farming: भारत में अब काले टमाटर (Kale Tomatoes) की खेती भी शुरू हो चुकी है। इसकी कीमत लाल टमाटर (red tomatoes) के मुकाबले काफ़ी ज्यादा होती है और यह कई दिनों तक खराब भी नहीं होता है।इसके औषधीय गुणों के कारण मार्केट में इसकी काफ़ी डिमांड है और बेचने पर दाम भी ऊंचे मिलते हैं। इसकी खेती करके किसान लाखों रुपये की कमाई कर रहे हैं।देश में कई किसान खेती के ट्रेडिशनल तरीकों को छोड़कर नई फसलें उगाने के प्रयास कर रहे हैं। इसमें हजारों किसानों को सफलता मिली है और उनकी इनकम में काफी इजाफा हुआ है।

Black tomato farming: अगर आप भी ऐसी खेती करने के बारे में सोच रहे हैं तो हम आपको एक बेहतर आईडिया दे रहे हैं। यह एक ऐसी फसल है जिसकी देश में काफी डिमांड है और इसमें लगातार बढ़ोतरी हो रही है।यहां हम काले टमाटर (Kale Tomatoes) की खेती के बारे में बात कर रहे हैं।बता दें कि अभी तक बहुत कम लोग ही काले टमाटर (Kale Tomatoes) की खेती के बारे में जानते हैं। हालांकि मार्केट में इसकी एंट्री हो चुकी है और कई लोग इसकी अलग पहचान के कारण लोग इसे तुरंत खरीद लेते हैं।इस टमाटर की सबसे खास बात यह है कि इसका इस्तेमाल कैंसर के इलाज में किया जाता है। इसके अलावा भी यह टमाटर कई बीमारियों से लड़ने में कारगर है। आइए जानते हैं इसकी खेती कैसे करें।

काले टमाटर की खेती के लिए क्या है जरूरी

काले टमाटर की खेती कैसे करें: काले टमाटर (Kale Tomatoes) की खेती भी लाल टमाटर की तरह की जाती है। इस किस्म के टमाटर की खेती के लिए गरम जलवायु चाहिए होती है। भारत की जलवायु काले टमाटर की खेती के लिए उपयुक्त है। इसके लिए जमीन का P.H. मान 6-7 के बीच होना जरूरी है।इसकी पैदावार लाल रंग के टमाटरों के मुकाबले काफी देर से शुरू होती है। बता दें कि काले टमाटर (Kale Tomatoes) की खेती की शुरुआत इंग्लैंड से हुई थी। इसे अंग्रेजी में इंडिगो रोज़ टोमेटो कहा जाता है। इसे यूरोप के मार्केट में ‘सुपरफूड’ कहते हैं। वहीं भारत में भी अब इसकी खेती शुरू हो चुकी है।

बुवाई के लिए जनवरी का महीना है बेस्ट

Black tomato farming process: काले टमाटर (Kale Tomatoes) की बुवाई करने के लिए जनवरी का महीना सबसे सही रहता है। जब आप इस समय काले टमाटर (Kale Tomatoes) की बुआई करते हैं तो मार्च-अप्रैल तक आपको इसकी फसल मिलना शुरू हो जाती है। वहीं अगर इसमें लगने वाले खर्च की बात करें तो इसमें लाल टमाटर की खेती जितना ही खर्च आता है।काले टमाटर की खेती में सिर्फ बीज का पैसा अधिक लगता है। काले टमाटर (Kale Tomatoes) की खेती में पूरा खर्चा निकालकर प्रति हेक्टेयर 4-5 लाख का मुनाफा हो सकता है। काले टमाटर (Kale Tomatoes) की पैकिंग और ब्रांडिंग के जरिए मुनाफा और बढ़ जाएगा। ज्यादा मुनाफ़ा कमाने के लिए आप इसे बड़े शहरों में बिक्री के लिए भेज सकते हैं।

काले टमाटर में है कई औषधीय गुण

काले टमाटर की खेती से फायदा: काले टमाटर (Kale Tomatoes) को लंबे समय तक ताजा रख सकते हैं। इसके काले रंग और कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण गुण होने कारण मार्केट में इसकी कीमत लाल टमाटर के मुकाबले ज्यादा रहती है। वहीं इसमें औषधीय गुण भी लाल टमाटर के मुकाबले ज्यादा पाए जाते हैं।यह बाहर से काला और अंदर से लाल होता है। अगर हम इसको कच्चा खाते हैं तो यह स्वाद में न ज्यादा खट्टा है न ज्यादा मीठा, इसका स्वाद नमकीन जैसा रहता है।यह वजन कम करने से लेकर, शुगर लेवल को कम करने और कोलेस्ट्रॉल को घटाने में भी उपयोगी है।

  social whatsapp circle 512WhatsApp Group Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now
Spread the love