वर्टिकल फार्मिंग : 1 एकड़ में 100 एकड़ बराबर मुनाफा जाएं कैसे » Kisan Yojana » India's No.1 Agriculture Blog

वर्टिकल फार्मिंग : 1 एकड़ में 100 एकड़ बराबर मुनाफा जाएं कैसे

Rate this post

kisan news :- इस तरह वर्टिकल फार्मिंग करके कमाए लाखो रुपए, 1 एकड़ में खेती करके मुनाफा ले 100 एकड़ के बराबर, जाने आईडिया मौजूदा दौर में जिस तरीके से आबादी में इजाफा हो रहा है। इससे खेती का आकार सिकुड़ रहा है। ऐसे में अब वो दिन दूर नहीं रह गए हैं। जब तमाम फल और सब्जियां खेतों के बजाय फैक्ट्रियों में उगाई जाने लगेंगी। इजराइल ने एक नई टेक्नोलॉजी के जरिए खेती करनी शुरू कर दी है। इसका नाम वर्टिकल फार्मिंग (Vertical Farming) है। अब भारत में भी इस टेक्नोलॉजी के जरिए खेती शुरू हो चुकी है। महाराष्ट्र में एक कंपनी (AS Agri and Aqua LLP) का ऐसा ही प्रोजेक्ट चल भी रहा है। जिसमें हल्दी की खेती की जा रही है।

यह वर्टिकल फार्मिंग एक ऐसी टेक्नोलॉजी है। जिसमें अगर आप 1 एकड़ में खेती करते हैं, तो इसकी पैदावार 100 एकड़ के बराबर मिलेगी। यानी एक एकड़ में ही जो आपको एरिया मिलता है। उसमें 100 एकड़ के बराबर एरिया मिल जाता है। कुल मिलाकर इस टेक्नोलॉजी में फसल को उगाने के लिए जमीन की जरूरत नहीं है। यह जमीन के ऊपर कई लेयर में खेती की जाती है।

वर्टिकल फार्मिंग के ल‍िए इन चीजों की होगी जरूरत

वर्टिकल फार्मिंग के ल‍िए सबसे पहले आपको जीआई पाइप की जरूरत होती है. इन पाइप पर 2-3 फीट गहरे और 2 फीट चौड़े लंबे-लंबे कंटेनर्स को वर्टिकल तरीके से सेट किया जाता है. प्रत्‍येक कंटेनर का ऊपरी हिस्सा ओपन रहता है. इसमें ही हल्दी को उगाया जाता है. जिसमें हल्दी की खेती होती है। वैसे तो वर्टिकल फार्मिंग अधिकतर लोग हाइड्रोपोनिक या एक्वापोनिक तरीके से करते हैं। जिसे जमीन पर नहीं किया जाता है। लेकिन इसमें मिट्टी का इस्तेमाल किया जाता है। तापमान को कंट्रोल करने के लिए फॉगर्स लगाए जाते हैं. जो तापमान बढ़ते ही पानी का फुहारा बरसाने लगते हैं और तापमान सामान्य हो जाता है। इसमें एक बार पाइप लगाने के बाद लंबे समय तक पाइप बदलने की जरूरत नहीं है

अगर वर्टिकल फार्मिंग के जरिए हल्दी उगाना हो तो 10-10 सेमी की दूरी पर जिग-जैग तरीके से हल्दी के बीज बोए जाते हैं। जैसे जैसे हल्दी बढ़ती जाती है। इसके पत्ते किनारे की जगह से बाहर की तरफ निकल जाते हैं। हल्दी को अधिक धूप की जरूरत नहीं होती और यह छाया में भी अच्छी पैदावार होती है। ऐसे में वर्टिकल फार्मिंग की तकनीक से हल्दी का बहुत अच्छा उत्पादन लिया जा सकता है। 9 महीने में हल्दी की फसल तैयार हो जाती है। हार्वेस्टिंग के तुरंत बाद दोबारा हल्दी लगाई जा सकती है। यानी 3 साल में 4 बार हल्दी की फसल की जा सकती है। जबकि सामान्य खेती में साल में एक ही बार फसल ली जा सकती है। इसकी वजह ये है कि मौसम का भी ध्यान रखना होता है।

वर्टिकल फार्मिंग के फायदे

इसमें खेती करने के लिए मौसम पर निर्भर नहीं रहना होता है। यानी आप जब चाहे तब खेती कर सकते हैं। यह खेती पूरी तरह से बंद जगह में होती है। ऐसे में कीट-पतंगों से नुकसान या बारिश या आधी तूफान से नुकसान की आशंका भी नहीं रहती है। बशर्ते आपके शेड को कोई नुकसान ना पहुंचे। इस तरह की खेती में सिचाई में पानी की भी खूब बचत होती है। हालांकि फॉगर्स में पानी खर्च होता ही है।

कमाई (profit in Vertical Farming)

हल्दी का इस्तेमाल ना सिर्फ घरों में खाने में होता है, बल्कि कॉस्मेटिक्स और फार्मा इंडस्ट्री में भी इसका बहुत अधिक इस्तेमाल होता है। आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि इस तकनीक से आप 1 एकड़ में 100 एकड़ के बराबर उत्पादन ले सकते हैं उदाहरण के तौर पर सालभर में यद‍ि आपके पास 250 टन हल्दी की फसल होती है तो आपके पास ढाई करोड़ रुपये आएंगे. यद‍ि इसमें 70 से 80 लाख का खर्च भी मान लें तो आपको आराम से डेढ़ से पौने दो करोड़ रुपये बच जाते हैं. इसके बाद आप हल्‍दी का पाउडर बनाकर भी बेच सकते हैं।

ये भी पढ़िए: Kisan News: बंपर उत्पादन के लिए गोबर और गौ मूत्र से बनाए जैविक खाद, देखें प्रक्रिया

business news or business idea

आप भी एक ग्रेट बिज़नेस आईडिया की तलाश में है तो आपकी ये खोज betul media पर पूरी हो सकती है। हम यहाँ ऐसे बिज़नेस आईडिया लेकर आते है जिनपर आप विचार करके एक सफल व्यवसाय की शुरुआत कर सकते है। हम आपको बता दे की आप एक ऐसा व्यावसायिक आईडिया का चुनाव करे, जिसके बारे में आप जानकारी जूता सके, और एक विस्तृत व्यवसाय योजना विकसित कर सके।

  • व्यवसाय शुरू करने से पहले, यह निर्धारित करें कि क्या उस उत्पाद या सेवा की मांग है जिसे आप प्रदान करना चाहते हैं।
  • यह लेख उन लोगों के लिए है जो व्यवसाय शुरू करने के लिए प्रेरणा की तलाश में हैं।
  • आपको इस बात पर विचार करना चाहिए कि क्या आपका विचार लोगों के जीवन जीने और उनके काम करने के तरीके की आवश्यकता को पूरा करता है।
  • यदि आप एक अधूरी जरूरत और एक लक्षित बाजार की पहचान कर सकते हैं, तो आप एक सफल व्यवसाय स्थापित कर सकते है।

source by – betul media

 
social whatsapp circle 512WhatsApp Group
Join Now
2503px Google News icon.svgGoogle News  Join Now
Spread the love